Monday, November 18th, 2019

विधायक समेत टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बदला पाला, जिला परिषद पर बीजेपी का कब्जा

 
कोलकाता 

तृणमूल कांग्रेस के विधायक बिप्लब मित्रा समेत कई पार्टी कार्यकर्ताओं ने सोमवार को बीजेपी का दामन थाम लिया। टीएमसी कार्यकर्ताओं की इस दल-बदल से बीजेपी ने राज्य में पहली बार किसी जिला परिषद पर अपना कब्जा जमाया है। तृणमूल कांग्रेस को झटका देते हुए दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद की अध्यक्ष लिपिका रॉय समेत कई सदस्य सोमवार को बीजेपी में शामिल हो गए। टीएमसी के विधायक मित्रा ने भी ममता सरकार पर निरंकुश तरीके से काम करने का आरोप लगाकर बीजेपी का दामन थाम लिया।  
 
मित्रा के अलावा, दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद के 18 में से 10 सदस्य और तृणमूल कांग्रेस के विधायक विल्सन चांपरामेरी भी बीजेपी में शामिल हो गए। दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय, पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष तथा पार्टी महासचिव और राज्य के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्टी में शामिल हुए। 

तीन बार के विधायक चांपरामेरी पश्चिम बंगाल में कलचीनी विधानसभा का प्रतिनिधित्व करते हैं। चांपरामैरी हाल में बीजेपी में शामिल होने वाले तृणमूल कांग्रेस के पांचवें विधायक हैं। इसके अलावा, सीपीएम का एक और कांग्रेस का एक विधायक भी भगवा दल में शामिल हो चुका है। रॉय ने तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के बीजेपी में शामिल होने को 'भूकंप' करार देते हुए कहा कि दक्षिण दिनाजपुर की जिला परिषद की अध्यक्ष लिपिका रॉय समेत इसके लगभग सभी सदस्य पार्टी में शामिल हो गए। 

मित्रा ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस 'निरंकुश तरीके' से काम कर रही है और इसका लोगों से संपर्क खत्म हो गया है। घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता फरहाद हाकिम ने कहा कि बीजेपी में शामिल होने वाले लोग मौकापरस्त हैं और आने वाले दिनों में वे पछताएंगे। 

Source : Agency

आपकी राय

6 + 8 =

पाठको की राय