Sunday, August 18th, 2019

गुस्से पर काबू पाने के लिए आज ही अपनाएं ये Vastu Tips

आज के समय में हर किसी को गुस्सा आना एक स्वभाविक बात बन गई है। लेकिन गुस्सा न केवल रिश्तों को खराब करता है बल्कि इंसान के स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होता है। कई बारे ऐसा होता है कि किसी ग्रह दोष के कारण भी लोगों में गुस्सा देखने को मिलता है और कई बार घर के वास्तु दोषों की वजह से भी गुस्सा आता है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है कि बिना किसी वजह से गुस्सा आता हो तो आज हम आपके लिए लाएं हैं वास्तु शास्त्र में बताए गए कुछ उपायों के बारे में, जिन्हें अपनाकर आप अपने गुस्से पर काबू पा सकते हैं।

वास्तु के हिसाब जिन लोगों को अधिक गुस्सा आता है, वह जितना हो सके लाल रंग का प्रयोग कम करें। अपने कमरे में भी लाल रंग को उपयोग न ही करें तो बेहतर होगा। क्योंकि ये गुस्से को बढ़ावा देता है।  

वास्‍तु कहता है कि गंदगी भी गुस्‍से को बढ़ाती है। ऐसे में घर के प्रत्‍येक क्षेत्र यानि कि कोने-कोने में भी कूड़ा या फिर गंदगी नहीं होनी चाहिए। हर जगह को साफ-सुथरा रखें। इससे गुस्‍से पर नियंत्रण कर सकेंगे। साथ ही लगातार साफ-सफाई रखने से आप देखेंगे कि धीरे-धीरे आपका गुस्‍सा कम होने लगेगा।

वास्‍तु के मुताबिक घर की पूर्व दिशा में प्रतिदिन सुबह और शाम को दीपक जलाएं। इससे गुस्‍से पर नियंत्रण कर सकेंगे। इसके अलावा कभी भी इस दिशा में कोई भारी सामान न रखें।

अगर किसी को बहुत ज्‍यादा गुस्‍सा आता है तो नियमित तौर पर सूर्य देव को अर्घ्‍य दें। इससे मन शांत रहता है। यही वजह है कि वास्‍तु कहता है कि सूर्य देव को जल चढ़ाते रहें।

अगर आपको बात-बात में गुस्‍सा आता है तो आप सोमवार का व्रत करें। इस दिन एक समय भोजन करें। रात के समय चंद्रमा को अर्घ्‍य दें और प्रार्थना करें कि आप गुस्‍सा खत्‍म हो जाए।

वास्‍तु के मुताबिक रोज सुबह उठकर धरती माता को प्रणाम करने से भी गुस्‍सा कम होता है। लेकिन ऐसा पांच बार करना होता है। साथ ही धरती मां से गुस्‍से पर काबू पाने के लिए प्रार्थना भी करनी चाहिए।

वास्‍तु के मुताबिक कमरों के कोनों में बाउल में सेंधा नमक रखें। इससे घर की नकारात्‍मक ऊर्जा का नाश होता है और सकारात्‍मक ऊर्जा का संचार होता है।

वास्‍तु के मुताबिक अगर कमरों में अच्‍छी सुगंध आती रहे तो मन शांत होता है। सकारात्‍मक विचारों से मन प्रसन्‍न रहता है।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

9 + 8 =

पाठको की राय