Thursday, September 19th, 2019

किसानों का ऋण दो घंटे के भीतर माफ करने वाला पहला राज्य - मंत्री ताम्रध्वज साहू

गरियाबंद
कृषक ऋण माफी तिहार आज गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू के मुख्य आतिथ्य में मनाया गया। सहकारिता विभाग एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के द्वारा इंडोर स्टेडियम में आयोजित कृषक ऋण माफी तिहार में जिलेभर के किसान बड़ी संख्या में उत्साह के साथ शामिल हुए। किसानों को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि एवं गृह, लोक निर्माण, जेल, पर्यटन, धर्मस्व तथा प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने किसानों को बधाई दिया और कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किसानों द्वारा किये गये वादा को दो घंटे के भीतर पूरा किया। हमारी सरकार किसानों के हित के लिए समर्पित है।

मंत्री श्री साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ में विभिन्न प्रकार के तिहार मनाने की परम्परा है, जो आपस में भाईचारा व सद्भावना का प्रतीक है । इसी कड़ी में हमने ऋण माफी तिहार और हरेली तिहार को भी जोड़ा है। श्री साहू ने कहा कि किसानों के हित के लिए संकल्पित सरकार ने कापरेटिव बैंक के 13 लाख 50 हजार किसानों के साढ़े छः हजार करोड़ रूपये का कर्ज माफ किया, साथ ही डिफाल्टर हो चुके किसानों का भी कर्ज माफ कर एक नया अध्याय जोड़ दिया। मात्र दो घंटे के भीतर वादा पूरा करने वाली पहली सरकार है। प्रभारी मंत्री श्री साहू ने कहा कि गरियाबंद में 46 हजार 293 किसानों का 152 करोड़ रूपये कर्ज सहकारी समितियों एवं सहकारी बैंको के माध्यम से माफ किया गया। साथ ही 31 हजार 874 किसानों को नगद एवं खाद-बीज सहित 96 करोड़ 95 लाख रूपये का ऋण भी वितरण किया जा चुका है, जो पहले कभी नहीं हुआ।

आज किसानों के चेहरे पर खुशी साफ झलक रही है। उन्होंने कहा कि सात महीने के अल्प कार्यकाल में हमने 20 वादों को पूरा किया है। चाहे बिजली बिल हॉफ, सिंचाई कर माफ, रजिस्ट्री, डावर्सन, वन अधिकार पत्र, स्थानीय त्यौहार में अवकाश हो, हमने त्वरित निर्णय लेकर अपने वादों को अमलीजामा पहनाया है। इस अवसर पर गरियाबंद जिले के विकास के लिए 14 कार्यो का लोकार्पण किया गया, जिसकी लागत 17 लाख 94 हजार रूपये है। साथ ही स्टेडियम परिसर में वृक्षारोपण भी किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राजिम विधायक श्री अमितेश शुक्ल ने कहा कि हमारी सरकार एक संवेदनशील सरकार है। समाज के सभी वर्गो के हितों का ख्याल रखती है। उन्होंने कहा कि 2500 रूपये समर्थन मूल्य और किसानों की कर्ज माफी का फैसला ऐतिहासिक है। उन्होंने बताया कि किसानों को खाद-बीज लेने किसी तरह की समस्या नहीं होनी चाहिए। श्री शुक्ल ने किसानों को आने वाली किसी भी समस्या से अवगत कराने भी कहा। बिन्द्रानवागढ़ के विधायक श्री डमरूधर पुजारी ने कहा कि हमारा राज्य धान का कटोरा है। यहां के किसान मेहनतकश हैं। उन्हें उनके श्रम का सम्मान मिलना चाहिए। श्री पुजारी ने कहा कि जो किसान छुट गये हैं, उनका भी कर्ज माफ हो।

कार्यक्रम में कलेक्टर श्री धावड़े ने आपने प्रतिवेदन में कहा कि जिले के कुल 55 हजार 170 किसानों का 217 करोड़ रूपये का ऋण माफ किया गया है। उन्होनंे कहा कि शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी के अंतर्गत जिले के 47 किसानों का लोकार्पण हरेली तिहार के अवसर पर किया गया है। कार्यक्रम में तीन किसानों को ऋण माफी प्रमाण पत्र और दियांगजनों को दिव्यांगजन विवाह प्रोत्साहन योजना अंतर्गत तीन लाख रूपये का चेक वितरित किया गया। कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्य, नगर पालिका, उपाध्यक्ष, पुलिस अधीक्षक, जिला पंचायत सीईओ, स्थानीय जनप्रतिनिधि, सहकारिता विभाग के अधिकारी एवं बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

14 + 1 =

पाठको की राय