Thursday, September 19th, 2019

कश्मीर में अपना ही हेलिकॉप्टर मार बैठे थे, IAF के पांच अफसर दोषी करार

नई दिल्ली

भारतीय वायुसेना अपने पांच अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. यह अधिकारी 27 फरवरी को श्रीनगर में अपने ही हेलिकॉप्टर पर फायरिंग करने के मामले में दोषी पाए गए हैं. यह वाकया उस समय हुआ था, जब बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी लड़ाकू विमान भारत में घुसे थे.

इस दौरान पश्चिमी वायु कमान प्रमुख एयर मार्शल हरि कुमार ऑपरेशन का नेतृत्व कर रहे थे. सरकारी सूत्रों ने बताया कि पांच अधिकारियों को जांच में दोषी पाया गया है और आगे की कार्रवाई के लिए रिपोर्ट वायुसेना मुख्यालय को भेज दी गई है.

दोषी पाए अधिकारियों में एक ग्रुप कैप्टन, दो विंग कमांडर और दो फ्लाइट लेफ्टिनेंट शामिल हैं. 27 फरवरी को घटना होने के बाद तुरंत वायु सेना ने जांच शुरू की थी और मृत कर्मियों के परिवारों को आश्वासन दिया था कि सभी दोषियों को सजा दी जाएगी.

बता दें कि जम्मू कश्मीर के बडगाम से सात किलोमीटर दूर गारेंद गांव में 27 फरवरी को एक चॉपर MI-17V5 क्रैश हो गया था. चॉपर खेत में जाकर गिरा और इसमें आग लग गई. हादसे की वजह तब साफ नहीं हो पाई थी. हादसे में दो पायलट शहीद हो गए थे. इस चॉपर ने श्रीनगर एयरबेस से उड़ान भरी थी. बताया कि गया था कि कश्मीर में चॉपर पेट्रोलिंग पर था तभी क्रैश हो गया.

गौरतलब है कि यह घटना उस वक्त हुई थी जब भारत और पाकिस्तान के बीच टकराव का माहौल था.

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

9 + 9 =

पाठको की राय