Monday, October 14th, 2019

 राजीव कुमार की तलाश में CBI की 5 ठिकानों पर छापेमारी

कोलकाता 
शारदा चिटफंड केस में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार की तलाश में उनके 5 ठिकानों पर छापेमारी की है. राजीव कुमार को जल्द ही गिरफ्तार किया जा सकता है.

एक टीम लोकेशन की तरफ रवाना हुई है तो दूसरी टीम राजीव कुमार के कोलकाता स्थित 34, पार्क स्ट्रीट आवास पर डटी हुई है. राजीव कुमार की किसी भी वक्त गिरफ्तारी हो सकती है. कुमार से जुड़े 5 ठिकानों पर सीबीआई टीम छापेमारी कर रही है.

पूर्व पुलिस आयुक्त का पता लगाने के लिए एजेंसी के मुख्यालय दिल्ली से 14 अधिकारियों ने बुधवार को कोलकाता के लिए उड़ान भरी. अधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कोलकाता पुलिस के पूर्व आयुक्त राजीव कुमार के ठिकाने का पता लगाने के लिए एक विशेष टीम का गठन किया है. सूत्रों के मुताबिक, "तीन समन के बाद भी राजीव कुमार पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हो रहे हैं, उनका पता लगाने के लिए एक विशेष टीम बनाई गई है."

सीबीआई ने राजीव कुमार के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट पाने के लिए अदालत से भी संपर्क किया है. सीबीआई के शीर्ष सूत्रों ने इंडिया टुडे को बताया, 'पश्चिम बंगाल के डीजीपी को पत्र लिखने के बाद, हमने राजीव कुमार के वकील को पत्र भी लिखा और उन्हें कुमार को जांच में शामिल होने का निर्देश देने के लिए कहा है. वे आज तक सामने नहीं आए हैं और अब हमारे पास उसके खिलाफ सख्त कदम उठाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.'

यदि राजीव कुमार के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया जाता है, तो यह न केवल वरिष्ठ अधिकारी के लिए बल्कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए भी बड़ी शर्मिंदगी के रूप में देखा जाएगा. माना जाता है कि राजीव कुमार ममता के काफी करीबी हैं और जब सीबीआई ने कुमार को पहली बार पूछताछ के लिए बुलाया था, तो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री सीबीआई और मोदी सरकार के खिलाफ धरने पर बैठ गई थीं.

राजीव कुमार को अंतिम बार सार्वजनिक रूप से शुक्रवार को देखा गया था, जब कोलकाता हाईकोर्ट ने घोटाले में उन्हें गिरफ्तारी से अंतरिम राहत वापस ले ली थी. राज्य के पुलिस महानिदेशक वीरेंद्र ने राजीव से संबंधित जानकारी मांगने वाले सीबीआई के एक पत्र का औपचारिक जवाब देते हुए कहा कि नौ सितंबर से 25 सितंबर तक के आधिकारिक अवकाश पर चल रहे कुमार से इसके बाद से संपर्क नहीं हो सका है.

शारदा पोंजी स्कीम घोटाले में राजीव कुमार को सीबीआई ने नोटिस भेजा है. नोटिस के बावजूद राजीव कुमार सीबीआई के समक्ष हाजिर नहीं हुए. बीते शुक्रवार को कोलकाता हाईकोर्ट ने कुमार की गिरफ्तारी पर से रोक हटा दी थी.

सूत्रों ने कहा कि पश्चिम बंगाल के डीजीपी ने सोमवार को एक पत्र में सीबीआई को बताया था कि नोटिस राजीव कुमार के आधिकारिक आवास पर भेजी गई थी और उनकी प्रतिक्रिया का इंतजार किया गया. पत्र में डीजीपी ने कहा था कि कुमार ने अपने वकील के माध्यम से उन्हें सूचित किया था कि वह 25 सितंबर तक छुट्टी पर हैं.

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

6 + 7 =

पाठको की राय