Tuesday, October 22nd, 2019

नवरात्रि के भंडारे में प्रसाद खाकर डेढ़ दर्जन लोग बीमार

 
धौलपुर 

राजस्थान के धौलपुर जिले के राजाखेड़ा इलाके में नवरात्रि के भंडारे का प्रसाद खाना लोगों को महंगा पड़ गया. अन्नपूर्णा माता के मंदिर पर नवरात्रि के भंडारे का प्रसाद खाकर 16 से ज्यादा लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार हो गए. लोगों की अचानक तबीयत खराब होने पर इलाके में हड़कंप मच गया.
मरीजों की संख्या अधिक बढ़ने पर सभी को स्थानीय सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन संख्या ज्यादा होने की वजह से अस्पताल ने मरीजों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया. बीमार लोगों में महिला और बच्चे भी शामिल हैं.

प्रसाद खाकर बीमार पड़े लोग

मिली जानकारी के मुताबिक मुताबिक राजाखेड़ा उप खंड के हॉट मैदान स्थित माता के मंदिर पर भंडारे में प्रसाद बांटे जा रहे थे. श्रद्धालुओं के लिए पूरी और आलू की सब्जी का प्रसाद बनाया था. भंडारे की शुरुआत होने पर सभी लोगों ने पंगत में बैठकर खाना खाया था.

प्रसादी खाने के करीब एक-डेढ़ घंटे बाद लोगों को दिक्कतें आनी शुरू हुईं. जैसे-जैसे मरीजों की संख्या बढ़ती गई वैसे-वैसे लोगों में हड़कंप मच गया. बीमार लोगों के मुताबिक भंडारे का प्रसाद खाकर डेढ़ दर्जन से अधिक महिला-पुरुषों और बच्चों की तबीयत खराब हो गई.

स्थानीय अस्पताल में भर्ती

लोगों को बीमार पड़ता देख एंबुलेंस बुलाई गई, जिसके बाद लोगों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहां भी मरीजों की हालत में सुधार जब नहीं दिखा तो प्राथमिक उचार देकर अस्पताल प्रशासन ने मरीजों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया.


4 बच्चों की हालत गंभीर

जिला अस्पताल में सभी का उपचार किया जा रहा है. जिला अस्पताल से प्रमुख चिकित्सा अधिकारी समरवीर सिंह के नेतृत्व में चिकित्सकों की अलग-अलग टीम उपचार करने में लगी हुई है. चार बच्चों और एक व्यक्ति की हालत गंभीर होने पर हायर सेंटर रेफर कर दिया है.

खाने में मिला हो सकता है धतूरा!

प्रमुख चिकित्सा डॉ.समरवीर सिंह के यह मामला फूड पॉइजनिंग का नहीं लग रहा है. ऐसा भी हो सकता है कि खाने में धतूरा मिला दिया गया हो. इनकी सैम्पलिंग कर ली गई है, आगे जांच के बाद ही मामला स्पष्ट हो सकेगा.

मामले की सूचना पाकर राजाखेड़ा विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक रोहित बोहरा भी जिला अस्पताल पहुंचे. विधायक ने मरीजों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली. साथ ही विधायक वोहरा ने से जिला अस्पताल में भर्ती हुए मरीजों को दो-दो हजार रुपये उपचार के लिए दिए.
 

Source : Agency

आपकी राय

8 + 15 =

पाठको की राय