Tuesday, October 22nd, 2019

'सुस्ती' के बीच एक दिन में 200 मर्सेडीज डिलीवर

मुंबई
ऐसा कहा जा रहा है कि ऑटोमोबाइल सेक्टर में मंदी है और बिक्री में लगातार गिरावट जारी है, लेकिन इस त्योहारी सेल पर लग्जरी कार बनाने वाली जर्मनी की कंपनी मर्सेडीज बेंज ने मुंबई, गुजरात और देश के अन्य शहरों में एक ही दिन में 200 से अधिक कारों की डिलिवरी की है। कंपनी ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि उसने दशहरा और नवरात्र पर बुक की गई विभिन्न मॉडल की 200 से अधिक कारों की डिलिवरी एक ही दिन में की है।

केवल मुंबई में 125 कारों की डिलिवरी
कंपनी ने बताया कि दशहरा पर अकेले मुंबई में 125 से अधिक कारों की डिलिवरी की गई है जो अब तक की सबसे अधिक संख्या है। वहीं गुजरात में उसने 74 कारों की डिलिवरी नवरात्र पर की है। कंपनी के भारतीय परिचालन के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्टिन श्वेंक ने कहा कि दशहरा और नवरात्र में मुंबई और गुजरात के ग्राहकों की ओर से हमें बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। ऐसी ही प्रतिक्रिया हमें 2018 में भी मिली थी। कंपनी ने सी और ई क्लास सेडान के साथ GLC और GLE जैसे एसयूवी वाहनों की डिलिवरी की है।


हर हफ्ते बिकती है एक लेम्बोर्गिनी
पिछले दिनों एक रिपोर्ट आई थी, जिसके मुताबिक इटली की सुपरस्पोर्ट्स कार कंपनी लेम्बोर्गिनी की बिक्री में इस साल 30 फीसदी के करीब इजाफा हो सकता है। माना जा रहा है कि 2019 में कंपनी 65 यूनिट से ज्यादा की बिक्री कर सकती है। इस लिहाज से हर हफ्ते में एक लेम्बोर्गिनी बिक रही है, जिसकी कीमत करीब 3 करोड़ के आसपास है।

2018 में बिकी थी 48 लेम्बोर्गिनी
लेम्बोर्गिनी इंडिया के हेड शरद अग्रवाल ने इकनॉमिक टाइम्स से बातचीत में कहा था कि 2018 में कंपनी 48 कार बेची थी। उनका मानना है कि अगले साल (2020) में भी दहाई अंकों की ग्रोथ बनी रहेगी और अगले तीन सालों में कंपनी एक साल में 100 यूनिट कार बेचेगी।

बिक्री में 30-40 फीसदी की गिरावट
दूसरी तरफ, ऑटो सेक्टर की दूसरी कंपनियों का हाल बुरा है। पिछले कुछ महीने में बिक्री में 30-40 फीसदी तक गिरावट आई है। डीलरशिप पर स्टॉक का बोझ बढ़ रहा है, जिसकी वजह से सैकड़ों डीलरशिप बंद हो चुके हैं। बिक्री घटने की वजह से मारुति, ह्यूंदै, होंडा, टाटा मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी कंपनियों ने कई बार प्रॉडक्शन को कई दिनों के लिए रोका है। हेवी व्हीकल बनाने वाली कंपनी अशोक लीलैंड ने इसी महीने अलग-अलग प्रॉडक्शन सेंटर पर 2-15 दिनों तक काम बंद करने की घोषणा की थी।


इस साल अब तक बिकी एकमात्र नैनो कार
यह जानकर आश्चर्य होगा कि इस साल (2019) केवल एकमात्र लखटकिया कार नैनो बिकी है। कंपनी ने एकमात्र कार फरवरी महीने में बेची थी। पिछले करीब 9 महीने से इस कार का प्रॉडक्शन भी बंद है। जब कार बिक ही नहीं रही है तो कंपनी प्रॉडक्शन क्यों करेगी। हालांकि, इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि BS-VI लागू होने के बाद यह कार किसी भी पैमाने पर खड़ा नहीं उतरती है। ऐसे में चाहकर भी खरीदार इसे नहीं खरीदना चाहेंगे। कंपनी के अधिकारियों के मुताबिक, यह संभव है कि फरवरी 2020 के बाद इसका प्रॉडक्शन हमेशा के लिए बंद करने की आधिकारिक घोषणा कर दे।

Source : Agency

आपकी राय

4 + 4 =

पाठको की राय