Monday, October 21st, 2019

ED के सामने पेश हुए कार्ति चिदंबरम, बोले- दशहरे की बधाई देने आया

नई दिल्ली

आईएनएक्स मीडिया केस में तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से भी इस मामले में पूछताछ की जा रही है. इंडिया टुडे को मिली जानकारी के मुताबिक कार्ति चिदंबरम बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश हुए. अधिकारियों ने बताया कि कार्ति चिदंबरम से आईएनएक्स मीडिया मामले में पूछताछ की जा रही है.

ईडी ने कार्ति चिदंबरम को समन भेजकर बुधवार को पेश होने को कहा था. जब मीडिया ने कार्ति चिदंबरम से उनके ईडी के दफ्तर आने का कारण पूछा तो कार्ति चिदंबरम ने कहा, 'मैं यहां सबको दशहरे की बधाई देने आया हूं.'

आईएनएक्स मीडिया केस में कार्ति चिदंबरम और उनके पिता पी चिदंबरम आरोपी हैं. पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी चिदंबरम को हाल ही में गिरफ्तार किया गया था. कार्ति को फिलहाल इस केस में गिरफ्तारी से सुरक्षा मिली हुई है, जिसे ईडी ने हाई कोर्ट में चुनौती दी है. ईडी का कहना है कि जांच की प्रक्रिया पूरी करने के लिए कार्ति चिदंबरम को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की जरूरत है.

हालांकि, कार्ति चिदंबरम ईडी के उन आरोपों से इनकार कर रहे हैं कि उन्होंने आईएनएक्स मीडिया की डील को अपने पिता पी चिदंबरम के माध्यम से प्रभावित किया, जो उस समय वित्त मंत्री थे. सीबीआई और ईडी का आरोप है कि कार्ति चिदंबरम इंद्राणी मुखर्जी से मिले थे और आईएनएक्स मीडिया डील को प्रभावित करने के लिए पी​ चिदंबरम के साथ उनकी मीटिंग कराई थी.

मैं इंद्राणी और पीटर मुखर्जी से नहीं मिला- कार्ति

हालांकि, इंडिया टुडे से बात करते हुए कार्ति चिदंबरम ने एजेंसी के आरोपों को बकवास बताते हुए दावा किया, 'मैं इंद्राणी या पीटर मुखर्जी से अपने जीवन में कभी नहीं मिला. ये आरोप पूरी तरह झूठे हैं. यह और कुछ नहीं बल्कि राजनीतिक प्रतिशोध है, क्योंकि मेरे पिता सरकार की आलोचना में काफी मुखर रहे हैं.'

हाल ही में जांच एजेंसी ने एक सनसनीखेज दावा किया था कि पी चिदंबरम से मिलने गईं इंद्राणी मुखर्जी की एंट्री को विजिटर्स लॉग बुक से मिटा दिया गया. कार्ति ने एक ट्वीट में कहा, 'क्या बीजेपी सरकार यह कह रही है कि मेरे पिता ने 2017 में दर्ज एफआईआर के लिए वित्त मंत्रालय की विजिटर लॉग बुक को मिटा दिया? जब एफआईआर दर्ज हुई, ततब सरकार किसकी थी? क्या वे सरकारी रिकॉर्ड नष्ट करने के लिए एक नई एफआईआर दर्ज करेंगे? क्या वे गंभीर हैं कि पूर्व वित्तमंत्री 2017 के बाद वित्त मंत्रालय में गए और लॉग बुक का रिकॉर्ड नष्ट कर दिया? उस समय ​सरकार किसकी थी?'

कार्ति का कहना है कि अगर ईडी के पास उनके खिलाफ कोई सबूत है, तो वो उनके​ खिलाफ चार्जशीट क्यों नहीं पेश कर रहे हैं? पी चिदंबरम को 21 अगस्त को सीबीआई ने गिरफ्तार किया था और 5 सितंबर से वो न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल में बंद हैं. पिछले साल फरवरी में कार्ति​ चिदंबरम को भी सीबीआई ने गिरफ्तार किया था.

Source : Agency

आपकी राय

4 + 9 =

पाठको की राय