Saturday, November 16th, 2019

'J&K आंतरिक मामला, चीन को दिक्‍कत नहीं'

लद्दाख
केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को लद्दाख पहुंचे। इस मौके पर पाकिस्‍तान को कड़ा संदेश देते हुए उन्होंने दोहराया कि कश्मीर भारत का आंतरिक और अभिन्न अंग है। उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की भारत यात्रा का जिक्र करते हुए कहा कि चिनफिंग ने भी महाबलीपुरम में पीएम मोदी से कश्मीर मुद्दे पर कुछ नहीं कहा। हाल ही में आतंक के खिलाफ कार्रवाई से जुड़ा चीन का बयान भी महत्वपूर्ण है।

राजनाथ सिंह ने कहा, 'भारत का चीन के साथ सौहार्दपूर्ण रिश्ता है। दोनों देशों के बीच सीमा को लेकर कुछ अवधारणात्मक मतभेद जरूर हैं लेकिन इसे बेहद जिम्मेदारी और परिपक्वता के साथ संभाला गया है। दोनों देशों ने इस स्थिति को बढ़ने या फिर काबू से बाहर नहीं जाने दिया है।'

सेना के अधिकारियों ने दी पीओके पर हमले की जानकारी
राजनाथ सिंह के इस दौरे पर सेना के उच्च अधिकारी भी मौजूद रहे। आर्मी चीफ बिपिन रावत की मौजूदगी में चिनार कॉर्पस के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने पीओके में आतंकी ठिकानों पर किए गए हमले की विस्तृत जानकारी भी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को दी।

'अब पर्यटकों के लिए खुल गया है सियाचिन'
एक ब्रिज का उद्घाटन करने के बाद राजनाथ सिंह ने बताया कि सियाचिन क्षेत्र को अब पर्यटन और पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। सियाचिन बेस कैंप से कुमार पोस्ट तक पर्यटक जा सकते हैं। इस मौके पर उन्होंने लद्दाख में श्योक नदी पर बने 'कर्नल चेवांग रिनचेन ब्रिज' का उद्घाटन भी किया।

राजनाथ सिंह ने आगे कहा, 'मुझे लद्दाख में श्योक नदी पर बने इस कर्नल चेवांग रिनचेन ब्रिज को देश को समर्पित करते हुए बड़ी खुशी हो रही है। यह ना केवल हर मौसम में इस इलाके को बेहतर कनेक्टिविटी देगा बल्कि सीमा से लगे इलाकों के लिए यह इसका रणनीतिक महत्व भी होगा।'

Source : Agency

आपकी राय

12 + 7 =

पाठको की राय