Friday, November 22nd, 2019

कामयाब होने के लिए अपने बोलिंग ऐक्शन में करना होगा सुधार: शाहबाज नदीम

रांची 
बाएं हाथ के स्पिनर शाहबाज नदीम ने सोमवार को कहा कि साउथ अफ्रीका के खिलाफ पदार्पण टेस्ट की सिर्फ पहली तीन गेंदों तक ही वह नर्वस थे। इसके बाद वह सहज हो गए। हालांकि नदीम ने माना कि उन्हें बेहतर नतीजों के लिए अपने गेंदबाजी ऐक्शन में सुधार करना होगा। अपने घरेलू मैदान पर पहला मैच खेलते हुए 30 बरस के नदीम ने 2 विकेट लिए। साउथ अफ्रीका की टीम पहली पारी में 162 रन पर आउट हो गई। नदीम ने कहा, 'मैं रोमांचित था और भावुक भी लेकिन मैंने अपने प्रदर्शन पर फोकस किया। मैं पहली तीन गेंद तक नर्वस रहा खासकर रन अप के दौरान। चौथी गेंद से मैं सहज हो गया।' 

इस लेफ्ट आर्म युवा स्पिनर ने कहा, 'मैं अपने फॉलोथ्रू पर काम कर रहा हूं। मुझे यह सुनिश्चित करना होगा कि मेरे ऐक्शन और शरीर के वजन में तालमेल रहे।' उन्होंने कहा, 'इतने साल की मेहनत का फल मिलना अच्छा लग रहा है। अपने घरेलू मैदान पर पहला टेस्ट खेलना अलग तरह का अनुभव है।' नदीम ने कहा कि आर. अश्विन और रविंद्र जडेजा के साथ गेंदबाजी का उन्होंने पूरा लुत्फ उठाया। उन्होंने कहा, 'यह मजेदार था। वे अपने अनुभव मेरे साथ बांटते हैं। वे दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं और उनसे सीखने के लिए बहुत कुछ है।'

Source : Agency

आपकी राय

2 + 6 =

पाठको की राय