Saturday, December 14th, 2019

एमएमए: 'दंगल गर्ल' ऋतु का तूफानी डेब्यू, साढ़े 3 मिनट में जीती फाइट

पेइचिंग (चीन) 
भारत की पूर्व महिला पहलवान ऋतु फोगाट ने शनिवार को अपने मिक्स मार्शल आर्ट्स (एमएमए) करियर की जीत के साथ शुरुआत की। राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली ऋतु ने शनिवार को यहां कैडिलैक एरेना में वन चैंपियनशिप के ‘ऐज ऑफ ड्रैगन्स’ प्रतिस्पर्धा के एटोमवेट वर्ग में दक्षिण कोरिया की किम नाम को मात दी। ऋतु ने दमदार प्रदर्शन किया और पांच-पांच मिनट के तीन राउंड के पहले ही राउंड में 3:37 मिनट के भीतर ही टीकेओ के आधार पर जीत दर्ज की। 

बाउट के शुरुआती क्षणों में ऋतु ने बाएं हाथ के जैब से प्रतिपक्ष को भांपा और ‘सिंगल लेग टेकडाउन’ से मुकाबले को जमीन पे ले गए। किम ने शक्ती दशार्ते हुए अपनी बचाव की और ऋतु फिर से खड़े होकर मुक्केबाजी में उलझना उचित समझा। किम ने ऋतु को जमीन में गिराकर बांए हाथ से मुक्के लगाते रहे, लेकिन किम ने अपना गार्ड बनाए रक्खा। ऋतु फिरसे उठ खड़ी हुई, लेकिन इससे पहले की किम संभल पाती ऋतु ने फिर हमला किया। इस बार ऋतु ‘साइड कंट्रोल’ हासिल करने में कामयाब हुई। ऋतु ने इस जीत के बाद कहा, ‘मैं अपनी बहनों और अपने परिवार की शुक्रिया अदा करना चाहती हूं, उन्होंने मुझपे विश्वास किया और हमेशा मेरा हौसला बढ़ाया। मैं सबको उनके समर्थन के लिए आभार व्यक्त करती हूं और यह वादा करती हूं की हमेशा मुकाबले में अपना अपना सौ प्रतिशत दूंगी।’ 

बाउट के बाद पत्रकारों से बात करते हुए ऋतु ने कहा की मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में उनकी यात्रा अभी तो सिर्फ शुरू ही हुई है। उन्होंने कहा, ‘मेरा एक ही मकसद है, देश के लिए मुझे वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतना है। इसी लिए मैंने अपने वाक-आउट के लिए ए आर रहमान के ‘वन्दे मातरम’ को सुना। इस गाने को सुनते ही मुझमें एक जोश आती है की देश के लिए कुछ करके दिखाना है। अब जब तक मैं अपना लक्ष्य हासिल नहीं कर लेती मैं रुकूंगी नहीं।’ ऋतु ने साथ ही कहा, ‘में सीधे वापस जाके अपनी ट्रेनिंग पर ध्यान दूंगी। मुझे जल्द ही एक और बाउट खेलना है। फिर आगे जाके मैं वन चैंपियनशिप की एटमवेट चैंपियन एंजेला ली को चुनौती देना चाहती हूँ।’’ सिंगापुर की रहने वाली एंजेला ली पिछले तीन साल से चैंपियन बनी हुई हैं। 

Source : Agency

आपकी राय

4 + 2 =

पाठको की राय