Wednesday, December 11th, 2019

U19 वर्ल्ड कप: टैक्सी ड्राइवर का बेटा बना कैप्टन

मेरठ
अगले साल साउथ अफ्रीका में होने वाले अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान सोमवार को कर दिया गया। टीम की कप्तानी और उप-कप्तानी यूपी के खिलाड़ियों को मिली है। दिल्ली से करीब 50 किलोमीटर दूर मेरठ के प्रियम गर्ग जनवरी में साउथ अफ्रीका की मेजबानी में होने वाले इस टूर्नमेंट में भारतीय टीम का नेतृत्व करेंगे।

आगरा के ध्रुव जुरेल उप-कप्तान होंगे। यह पहली बार है कि राज्य के लड़कों को किसी भी राष्ट्रीय क्रिकेट टीम का कैप्टन और वाइस कैप्टन बनाया गया है।


सिलेक्शन मां को डेडिकेट
प्रियम के पिता नरेश गर्ग घर का खर्च उठाने के लिए टैक्सी चलाते थे। उन्होंने अपने बेटे को कभी सपने पूरे करने के लिए नहीं रोका और प्रियम ने भी अपने खेल की बदौलत इस टीम में जगह बनाई। प्रियम ने टीम का हिस्सा बनना अपनी मां को डेडिकेट किया। उनकी मां का 8 साल पहले निधन हो गया था।


यूपी के और भी लड़के
मेरठ का एक और लड़का, कार्तिक त्यागी भी इस टीम का हिस्सा है। इसके अलावा, भदोही के यशस्वी जायसवाल, जो मुंबई से खेलते हैं, को भी जगह मिली है। उन्होंने हाल ही में ए-डिवीजन में दोहरा शतक जड़ा और 45 साल पुराना रेकॉर्ड तोड़ते हुए वह सबसे युवा बल्लेबाज बने।

8 साल की उम्र से क्रिकेट
दाएं हाथ के बल्लेबाज प्रियम यूपी की रणजी टीम के प्रमुख सदस्य हैं। उन्होंने आठ साल की उम्र से क्रिकेट खेलना शुरू किया था। शुरुआत में खेलने के चलते उनके माता-पिता कुछ परेशान रहे जो चाहते थे कि वह अपनी पढ़ाई पर ध्यान लगाएं। प्रियम ने कहा, 'क्रिकेट एक प्रतिस्पर्धी खेल है और मेरे माता-पिता मुझे एक अकैडमी में भेजने के लिए इच्छुक नहीं थे लेकिन जब मैंने उनसे वादा किया, तो उन्होंने मेरा पूरी तरह से सपॉर्ट किया।'


टैक्सी चलाते थे प्रियम के पिता
प्रियम के पिता नरेश ने कहा, 'मेरे पास सीमित साधन थे, लेकिन उन्होंने मैदान पर जो वादा किया था और उनके खेल को देखने के बाद मैंने उन्हें अच्छी सुविधाएं देने के लिए हर संभव प्रयास करने का फैसला किया। पहले मैं टैक्सी चलाता था लेकिन कुछ साल पहले रणजी में प्रियम के चयन के बाद, चीजों में काफी सुधार हुआ है।'

21 गेंदों में ध्रुव की सेंचुरी
आगरा के ध्रुव जुरेल एक विस्फोटक विकेटकीपर-बल्लेबाज है। ए-डिवीजन में जगह बनाने के बाद से वह लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। साल 2017 में एक कॉलेज मैच के दौरान उन्होंने सिर्फ 21 गेंदों में शतक बनाया।

4 बार का चैंपियन है भारत
अंडर-19 विश्व कप का 13वां टूर्नमेंट 16 टीमों के बीच खेले जाएगा जिन्हें चार समूहों में बांटा गया है। भारत को ग्रुप ए में पहली बार क्वॉलिफाइ करने वाले जापान, न्यू जीलैंड और श्रीलंका के साथ रखा गया है। प्रत्येक ग्रुप से शीर्ष दो टीमें सुपर लीग चरण के लिए क्वॉलिफाइ करेंगी। भारत इस टूर्नमेंट की सबसे सफल टीम है जिसने 2018 में पिछले खिताब सहित कुल चार बार प्रतियोगिता जीती है।

अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम: प्रियम गर्ग (कप्तान), यशस्वी जायसवाल, तिलक वर्मा, दिव्यांश सक्सेना, ध्रुव चंद जुरेल (उप-कप्तान और विकेटकीपर), शाश्वत रावत, दिव्यांश जोशी, शुभांग हेगड़े, रवि बिश्नोई, आकाश सिंह, कार्तिक त्यागी, अथर्व अंकोलेकर, कुमार कुशाग्र (विकेटकीपर), सुशांत मिश्रा और विद्याधर पाटिल।

Source : Agency

आपकी राय

15 + 5 =

पाठको की राय