Tuesday, January 21st, 2020

घर में इन जगहों पर भूलकर भी न लगाएं दीवार घड़ी, वरना जीवन भर के लिए हो सकती है पैसों की कमी

आजकल तरह-तरह की स्टाइलिश कलाई घड़ियों का ट्रेंड है लेकिन फिर भी आपको हर घर में दीवार घड़ी मिल ही जाएगी। वास्तुशास्त्र के अनुसार दीवार घड़ी को लगाने की कई दिशाएं बताई गई हैं, वहीं दीवार घड़ी को कुछ जगह लगाना वर्जित बताया गया है। आइए, जानते हैं कहा लगानी चाहिए दीवार घड़ी-  

दक्षिण दिशा में न लगाएं घड़ी
घड़ी अगर आपके घर में दक्षिण दिशा में घड़ी लगी है तो इसको अभी उतार दें क्योंकि कि आपके लिए परिवार के लिए सही नहीं है। ये ठहराव की दिशा है और इसके कारण आपके घर के मुख्य सदस्य की सेहत पर बुरा असर पड़ता है।

दरवाजे के ऊपर न लगाएं
आपके घर में किसी दरवाजे के ऊपर घड़ी लगी है, तो इसको आज ही उतार दें। ये वास्तु शास्त्र के लिए सही नहीं है। ऐसा करने से उसके नीचे से गुजरने वाले व्यक्ति पर नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव पड़ता है।

पूर्व दिशा में लगाए घड़ी
घड़ी के लिए सबसे अच्छी दिशा पूर्व मानी गई है। अगर आपके घर में पूर्व दिशा में घड़ी लगी है इससे घर में लक्ष्मी की आगमन होता है। अगर आप घड़ी को पश्चिम दिशा में लगाएंगे तो घरवाले के मन में हमेशा सकारात्मक विचार आते है।

शुभ होती है ये घड़ी
आपको बता दें कि वास्तु के हिसाब से घड़ियां भी अलग होती है। वास्तु में ये माना गया है कि अगर आपके घर में पेण्डुलम वाली घड़ी है तो ये आपके लिए अच्छी होती है। इससे लोगों की तरक्की होती है और आपको इस घड़ो को पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए।

बंद घड़ियां
अगर आपके घर में कोई ऐसी घड़ी है जो चलती नहीं है और पड़ी रहती है। आपको इस तरह की घड़ियां निकालकर तुरंत घर के बाहर फेंक देना चाहिए। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा आती है।

किस तरह की घड़ी का करें इस्तेमाल
घड़ियों का रंग आपको बता दें कि वास्तु में घड़ियों के रंगों को लेकर भी बताया गया है। आपको पता होना चाहिए कि आपको घर में काले, नीले और केसरिया कलर की घड़ी नहीं लगानी है। ये वास्तु के हिसाब से नहीं है। इसके साथ ही आपके घर में लगी घड़ी चौकोर और गोल है, तो शुभ संकेत हैं। ऐसी घड़ी आपके लिए शुभ होती है। इनको लगाने से घर में सुख और शांति आती है। इससे घरवालों की तरक्की भी होती है।

 

Source : Agency

आपकी राय

4 + 15 =

पाठको की राय