Sunday, January 26th, 2020

यूरोपियन थिंक टैंक ने कहा, इमरान खान पाकिस्तानी सेना के रबर स्टांप

एम्स्टर्डम
 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सेना के रबर स्टाम्प हैं। यह दावा  शुक्रवार को यूरोपियन थिंक टैंक ने किया है। एम्स्टर्डम के यूरोपियन फाउंडेशन फॉर साउथ एशियन स्टडीज (ईएफएसएएस) ने करतारपुर कॉरिडोर पर पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद के बयान के आधार पर  यह बात कही।

राशिद ने कहा था कि कॉरिडोर की परिकल्पना पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा की थी। यह बयान देश में सरकार की कमजोरी को दिखाता है। इससे पता चलता है कि वहां प्रधानमंत्री खुद आजादी से फैसला नहीं ले सकते। मुल्क में यह आम धारणा है कि इमरान खान अपनी ताकत से प्रधानमंत्री नहीं बने, बल्कि सेना ने उन्हें बनाया है। रेल मंत्री ने पुष्टि कर दी कि इमरान, सेना प्रमुख के अंगूठे के नीचे दबे हुए हैं।

अक्षम है पाकिस्तान सरकार
एफएसएस ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर की शुरुआत, भारत से संबंध सुधारने के लिए पाकिस्तान का सबसे अहम फैसला है। राशिद निर्वाचित प्रतिनिधि होने के साथ ही प्रधानमंत्री के करीबी सहयोगी भी हैं। ऐसे में कॉरिडोर का श्रेय प्रधानमंत्री को देने के बजाय, पाकिस्तानी सेना को देने से पता चलता है वहां सरकार कितनी अक्षम है। थिंक टैंक ने कहा- पाकिस्तान में लोकतंत्र खोखला और विकृत हो चुका है। 

Source : Agency

आपकी राय

10 + 4 =

पाठको की राय