Tuesday, January 21st, 2020

फील्डिंग खराब तो कोई टारगेट सेफ नहीं: विराट

तिरुवनंतपुरम
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ दूसरे टी20 मुकाबले में शिकस्त झेलने के बाद टीम की खराब फील्डिंग की आलोचना की है। टीम इंडिया के कप्तान ने कहा कि अगर ऐसी स्थिति रही तो किसी भी लक्ष्य बचाव करना मुश्किल होगा। उन्होंने खिलाड़ियों से क्षेत्ररक्षण के दौरान ज्यादा 'मुस्तैद' रहने को कहा। रविवार को खेले गए मैच में तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की लगातार दो गेंदों पर वॉशिंगटन सुंदर और विकेटकीपर ऋषभ पंत ने सलामी बल्लेबाज लिंडल सिमंस और इविन लुईस का कैच टपका दिया।

भारतीय क्षेत्ररक्षकों से यह जीवनदान मिलने के बाद सिमंस ने 45 गेंद में नाबाद 67 रन बनाए, जबकि लुईस ने भी 35 बॉल में 40 रन बनाए। इससे वेस्ट इंडीज ने मुकाबले को 8 विकेट से अपने नाम किया। कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में कहा, 'अगर हमारी फील्डिंग इतनी खराब रही तो कोई भी लक्ष्य काफी नहीं होगा। पिछले दो मैचों में हमारी फील्डिंग काफी खराब रही। हमने एक ओवर में दो कैच टपकाए (सुंदर और पंत)। अगर हमने दोनों विकेट ले लिए होते तो उन पर दबाव बढ़ जाता।'

उन्होंने कहा, 'हर किसी को मैदान में मुस्तैद रहने की जरूरत है। मुंबई में मुकाबला करो या मरो का होगा।' भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पिछले 15 टी20 मैचों में सात गंवा दिए हैं। कोहली से जब इस आंकड़े के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'आंकड़े काफी कुछ कहते हैं। मुझे लगता है कि हम पहले बल्लेबाजी करते हुए शुरुआती 16 ओवरों में 4 विकेट पर 140 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थे लेकिन आखिरी चार ओवर में चीजें हमारे मुताबिक नहीं रही। हमें इसमें 40-45 रन बनाने चाहिए थे, जबकि हम सिर्फ 30 रन ही बना सके। हमें इस पर ध्यान देना होगा।'

भारतीय कप्तान ने वामहस्त (लेफ्टहैंडर) युवा बल्लेबाज शिवम दुबे की तारीफ की, जिन्होंने 30 गेंद में 54 रन बनाए। कोहली ने कहा, 'हमने दुबे को तीसरे क्रम पर भेजना का फैसला किया जो सही साबित हुआ।' उन्होंने कहा, 'उनकी पारी से हम 170 के आंकड़े तक पहुंच सके। ईमानदारी से कहूं तो वेस्ट इंडीज ने अच्छी गेंदबाजी की। उन्होंने हम से बेहतर तरीके से पिच का आकलन किया। उन्होंने अच्छा खेला और जीत के हकदार थे।'

वेस्ट इंडीज के कप्तान कायरन पोलार्ड इस बात से संतुष्ट थे कि उनके गेंदबाजों में भारत को 170 रन पर रोक दिया। उन्होंने कहा, 'भारत को 170 रन पर रोकना शानदार रहा। हमने लक्ष्य का पीछे करने के बारे में योजना बनाई थी और और खिलाड़ियों ने बेहतरीन तरीके से लक्ष्य का पीछा किया।'

Source : Agency

आपकी राय

15 + 13 =

पाठको की राय