Thursday, January 23rd, 2020

ऑस्ट्रेलिया में आग से तबाह जंगलों में नई जिंदगी की शुरुआत, 50 करोड़ से अधिक जानवरों की हो चुकी है मौत

सिडनी

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी भीषण आग को नियंत्रित करने के काम में जुटे दमकल कर्मियों ने बताया कि सोमवार को उस पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है। अब वहां पर्यावरण सहित अग्निकांड से सदमे में आए जानवरों को बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। भीषण आग पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है। हालांकि कुछ हिस्से अब भी जल रहे हैं, लेकिन उम्मीद है कि जल्द ही इस पर भी काबू पा लिया जाएगा। इस दौरान बारिश होने की भी संभावना है, जिससे उम्मीद की जा सकती है कि जंगल की आग से बर्बाद हुए ग्रामीण इलाकों को कुछ राहत जरूर मिलेगी। दमकलकर्मियों का कहना है कि न्यू साउथ वेल्स और विक्टोरिया राज्य के जंगलों में लगी आग पर बहुत हद तक काबू पाया जा चुका है। यहां पिछले करीब तीन महीने से आग लगी है। न्यू साउथ वेल्स ग्रामीण दमकल सेवा के कमिश्नर शेन फिट्जसिमोंस ने सोमवार को कहा कि आग बुझाने के प्रयास सार्थक होते दिख रहे हैं।

 

जानवरों के लिए आसमान से पहुंचाया जा रहा खाना

ऑस्ट्रेलिया में फायर फाइटर और अन्य लोग ज्यादा से ज्यादा जानवरों को बचाने की कोशिशों में लगे हुए हैं। अंग्रेजी वेबसाइट डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, इस आग में एक अरब से अधिक जानवरों की मौत हो गई है। इस वजह से यह जरूरी है कि जो जानवर आग से बचे हैं वो खाना न मिलने के कारण न मरें क्योंकि आग के कारण उनके खाने के स्त्रोत भी खत्म हो गए हैं। इस वजह से जानवरों की जान बचाने के लिए ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स सरकार ने आसमान से खाना गिरा कर जानवरों को बचाने का जिम्मा उठाया है। इस उद्देश्य से सरकार लगातार गाजर और शकरकंद हेलीकॉप्टर से जंगलों में फेंक रही है। एनएसडब्ल्यू नेशल पार्क सर्विस द्वारा अब तक 2,200 किलो सब्जियां जानवरों के लिए जंगलों में गिराई गई हैं।  

 

जानवरों की रक्षा के लिए आपदा टीम

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी भीषण आग के कारण 50 करोड़ से अधिक जानवरों की मौत के बीच दक्षिण कंगारू द्वीप पर जानवरों के बचाव एवं राहत के लिए आपदा मिशन शुरू करते हुए सोमवार को एक टीम तैनात की गई। पशु कल्याण संगठन ह्यूमन सोसायटी इंटरनेशनल (एचएसआई) द्वारा गठित आपदा टीम आग में झुलसे, धुएं से प्रभावित एवं भयानक अग्निकांड से सदमे में आए जानवरों की मदद कर रही है।

 

30 हजार कोआला जानवरों की मौत की आशंका

एचएसआई की वरिष्ठ विशेषज्ञ केली डोनिथान ने बताया कि कंगारू द्वीप पर करीब 50 हजार कोआला थे, लेकिन विशेषज्ञों को आशंका है कि आग के कारण आधे से ज्यादा द्वीप के सुख जाने और वनस्पतियों के नष्ट हो जाने से अब करीब 32 हजार अन्य मवेशियों के साथ 30 हजार कोआला जानवरों की भी मौत हो गई है।

 

जंगलों को सहेजने के लिए 2.5 अरब खर्च

ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों ने आग प्रभावित जंगलों को फिर से वन्यजीवों की रक्षा करने और इस वन क्षेत्र को सहेजने के लिए 50 मिलियन ऑस्ट्रेलियाई (2.5 अरब रुपये) डॉलर खर्च करने की घोषणा की है। इस रकम से इस जंगली क्षेत्र को फिर से उसी रूप में विकसित किया जाएगा। ऑस्ट्रेलियन प्राधिकरण के ट्रेजरार जोश फ्राइडेनबर्ग ने इस बारे में जानकारी दी। ऑस्ट्रेलिया के जंगलों पर पूरी तरह काबू पाने के लिए दुनियाभर के लोग एक हजार करोड़ रुपये दान कर चुके हैं जबकि दुनियाभर से 33 हजार वॉलंटियर मदद के लिए पहुंचे हैं।  

Source : Agency

आपकी राय

11 + 2 =

पाठको की राय