Tuesday, January 21st, 2020

अखिलेश यादव ने पुलिस कमिश्नर प्रणाली पर कहीं ये बातें

 लखनऊ 
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पुलिस कमिश्नर प्रणाली पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि नए-नए प्रयोग से अपराध कैसे कम होंगे? सिर्फ अधिकारियों की अदला बदली में व्यवस्था में बदलाव आने वाला नहीं है। 

अखिलेश यादव ने मंगलवार को जारी बयान में कहा कि भाजपा सरकार के 3 वर्ष पूरे होते-होते अब तथाकथित सुधारात्मक कदम उठाए जाने का मतलब यह है कि अभी तक अपराधों पर नियंत्रण नहीं रहा। जनता पर लगातार अत्याचार हो रहा है। बलात्कार, हत्या, लूट और अपहरण की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। इस सबसे ध्यान भटकाने के लिए ही भाजपा ने अपना जाना पहचाना टोटका फिर अपनाया है।  श्री यादव ने कहा कि भाजपा को विकास से जाने क्यों एलर्जी है। भाजपा के पास या तो भविष्य का कोई विजन नहीं है या वह इसके लिए सक्षम ही नहीं है। समाजवादी पार्टी की सरकार के समय किए गए कार्यों के प्रति भाजपा का उपेक्षापूर्ण रवैया और उनके कामों पर अपना ठप्पा लगाने का कारोबार उसकी घटिया मानसिकता का ही परिचायक है। 

अखिलेश से मिले विभिन्न प्रतिनिधिमंडल 
अखिलेश यादव से विभिन्न निर्यातों अंचलो से आए खिलाड़ियों, नेताओं तथा प्रतिनिधिमण्डलों ने मुलाकात की। वाराणसी के सदर तहसील के बार एसोसिएशन के नव निर्वाचित पदाधिकारियों ने पूर्व महानगर अध्यक्ष  इस्तकबाल कुरैशी के साथ भेंट की। अखिलेश यादव से आज जिला बलरामपुर के ग्राम सोनौहड़ा की वंदना चैरसिया (13वर्ष) के परिवारीजन मिले। जिसकी बलात्कार के बाद जिंदा जलाकर हत्या कर दी गई थी। मृतका के पिता श्री विश्राम चौरसिया तथा माता श्रीमती फूलादेवी ने श्री यादव से मिलकर न्याय की गुहार लगाई। उन्हें अखिलेश यादव ने न्याय दिलाने का आश्वासन दिया। 

Source : Agency

आपकी राय

7 + 13 =

पाठको की राय