Thursday, February 20th, 2020

नायब तहसीलदार-एसडीओ का विवाद गहराया

बिलासपुर
कानन पेंडारी के अधीक्षक के खिलाफ मोटर व्हीकल एक्ट की कार्रवाई के मामले में नायब तहसीलदार के खिलाफ वन कर्मचारियों द्वारा मोर्चा खोलने के बाद अब नया मोड़ आ गया है। राजस्व विभाग के अधिकारी नायब तहसीलदार के बचाव में सामने आ गये हैं। उनका कहना है कि एसडीओ वन झूठा दोषारोपण कर रहे हैं, उन पर दंडात्मक कार्रवाई की जाए।

12 जनवरी को कोटा के नायब तहसीलदार अभिषेक राठौर ने कानन पेंडारी के अधीक्षक विवेक चौरसिया के वाहन का गेट के बाहर चालान कर दिया था। चौरसिया और वन कर्मचारियों का आरोप है कि नायब तहसीलदार ने कवर्धा के एसडीएम के परिवार को कानन पेंडारी प्रवास के दौरान वीआईपी ट्रीटमेंट नहीं मिलने के कारण उनके खिलाफ जबरिया कार्रवाई की और तीन घंटे तक थाने में बिठाकर प्रताड़ित किया। छत्तीसगढ़ वन कर्मचारी संघ ने इसके बाद नायब तहसीलदार पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ एक सप्ताह के भीतर कार्रवाई न होने पर आंदोलन करने की चेतावनी दे दी।

Source : Agency

आपकी राय

6 + 8 =

पाठको की राय