Sunday, September 20th, 2020
Close X

अचानक अमेरिकी राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रंप को क्‍यों याद आई भारत की ?



अहमदाबाद
अमेरिका में राष्‍ट्रपति चुनाव की तैयारियों के बीच राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रंप 22 फरवरी को भारत के अपने पहले दौरे पर आ रहे हैं। अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप अपनी भारत यात्रा की शुरुआत गुजरात के अहमदाबाद शहर से करने जा रहे हैं। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाखों लोगों के साथ अपने गृह राज्‍य गुजरात में ट्रंप का शाही अंदाज में स्‍वागत करेंगे। आइए जानते हैं कि चुनावी मौसम में अमेरिकी राष्‍ट्रपति को अचानक क्‍यों भारत की याद आई है?

दरअसल, डॉनल्‍ड ट्रंप का भारत दौरा ऐसे समय पर हो रहा है जब अमेरिका में इसी साल प्रेजिडेंट चुनाव होने वाले हैं और ट्रंप दूसरे टर्म के लिए दावा ठोक रहे हैं। ट्रंप को मात देने के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता भी कमर कस रहे हैं। ऐसे में ट्रंप को चुनाव जीतने के लिए अमेरिका में बसे भारतीयों के समर्थन की सख्‍त जरूरत है। पिछले साल अमेरिका में पीएम मोदी के हाउडी मोदी कार्यक्रम में 'अबकी बार ट्रंप सरकार' का नारा लग भी चुका है। जाहिर है कि ट्रंप अपने दौरे में इस जुड़ाव को और मजबूत करना चाहेंगे। अमेरिका में 40,94,539 भारतीय मूल के लोग रहते हैं और करीब 15,58,594 एनआरआई वोटर हैं।

एक अमेरिकी पत्रकार ने हमारे सहयोगी अखबार अहमदाबाद मिरर से कहा कि अपनी गुजरात यात्रा के जरिए राष्‍ट्रपति ट्रंप यह आशा कर रहे हैं कि उन्‍हें प्रभावशाली गुजराती समुदाय का समर्थन मिल जाएगा। ट्रंप ने अपनी गुजरात यात्रा को लेकर कहा था, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे यहां लाखों-लाख लोग होंगे। उनका मानना है कि सिर्फ एयरपोर्ट से लेकर न्यू स्टेडियम (मोटेरा स्टेडियम) तक 50 से 70 लाख लोग होंगे। क्या आपको पता है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है, वे इसका निर्माण कर रहे हैं। ये लगभग पूरा हो चुका है और दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है।'

वाशिंगटन में रहे विदेशी मामलों के एक विशेषज्ञ ने कहा, 'ट्रंप का संदेश साफ है। गुजराती समुदाय कृपया अपने परिवार, मित्रों और रिश्‍तेदारों से कहिए कि वे नवंबर महीने में होने वाले चुनाव में उन्‍हें वोट करें।' दरअसल, अमेरिका में रहे 15,58,594 भारतीय मूल के मतदाताओं में से करीब 20 फीसदी गुजराती मूल के हैं। ये मतदाता आर्थिक रूप से काफी मजबूत हैं। 'केम छो' के जरिए ट्रंप की नजर इन्‍हीं मतदाताओं पर है। दुनिया में सबसे खर्चीला चुनाव अमेरिका में होता है और ये गुजराती मतदाता वोट के साथ पैसे से भी ट्रंप की मदद कर सकते हैं। बता दें कि अमेरिका के मोटेल इंडस्‍ट्री के 40 प्रतिशत हिस्‍से पर गुजरातियों का कब्‍जा है।

अमेरिका में भारतीय मूल के मतदाताओं की संख्‍या लगातार बढ़ती जा रही है। सबसे ज्‍यादा भारतीय (7.3 लाख) कैलिफोर्निया में रहते हैं। इसके बाद 3.7 लाख भारतीय न्‍यूयार्क, 3.7 लाख भारतीय न्‍यूजर्सी, 3.5 टेक्‍सास में रहते हैं। अमेरिका के 50 में से 18 राज्‍यों में भारतीय मूल के लोग रहते हैं। यह किसी अन्‍य देश की तुलना में काफी अधिक है। अमेरिका के 50 में से 16 राज्‍यों की कुल जनसंख्‍या का 1 प्रतिशत भारतीय समुदाय के लोग हैं। अपनी भारत यात्रा के दौरान ट्रंप इन्‍हीं भारतीय मतदाताओं के दिल को जीतने की कोशिश करेंगे।

Source : Agency

आपकी राय

10 + 12 =

पाठको की राय