Saturday, April 4th, 2020

Mahashivratri 2020: वास्तु दोष ने कर रखा आपका वैवाहिक जीवन खराब तो ये उपाय आपके लिए हैं

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष चतुर्थी तिथि को देश के लगभग हर हिस्से में महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाएगा। कहा जाता है जिस तरह भारत देश में दिवाली, दशहरा, होली आदि जैसे त्यौहारों का बेस्रबी से इंतज़ार करते हैं ठीक उसी तरह महाशिवरात्रि के आने का इंतज़ार करते हैं। क्योंकि शास्त्रों में इस दिन का अधिक महत्व बताया गया है। अब ये तो शायद ही किसी को बताने की ज़रूरत होगी कि हिंदू धर्म का ये मुख्य पर्व देवों के देव महादेव से जुड़ा हुआ है।

शिव+रात्रि यानि शिव के गुणगान की रात। दरअसल धार्मिक ग्रंथों में किए वर्णन के अनुसार इस दिन भगवान शिव ने माता पार्वती संग विवाह किया था। जिस कारण इस दिन की महत्वता व पवित्रता अधिक माना जाता है। अब जिस दिन भगवान शंकर व माता पार्वती विवाह के बंधन में बंधे होंगे तो ज़ाहिर सी बात है इस दिन की विशेषता तो बढ़ेगी।

जिसका एक मतलब ये भी हुआ कि इस दिन दंपत्ति अगर एक साथ मिलकर भगवान शंकर एवं माता पार्वती की पूजा करता है उनकी मैरिड लाइफ में चल रही परेशानियों दूर हो जाती हैं तथा प्यार बढ़ता है। इतना ही नहीं जिस कपल के बीच वास्तु दोषों के कारण लड़ाई-झगड़े हो रहे हों उनके जीवन से वास्तु दोष का हमेशा हमेशा के लिए खात्मा हो जाता है। तो चलिए जानते हैं इन चमत्कारी उपायों के बारे में जिन्हें महाशिवरात्रि के दिन करने से आपको लाभ ही लाभ प्राप्त होगा।

जिन लोगों की शादी में देरी हो रही हो तो अगर वो महाशिवरात्रि का व्रत रखते हैं तो उनका शीघ्र विवाह हो जाता है। इसके अलावा अगर किसी दंपत्ति के जीवन में प्यार की जगह लड़ाईयां बढ़ रही हों तो  शिव-पार्वती दोनों के आशीर्वाद से वैवाहिक जीवन सफल होता है। अगर किसी की मैरिड लाइफ को तीसरा खराब करने की कोशिश करता है तो वो अपने हर प्रयास से असफल होता है।

उपाय-

  • महाशिवरात्रि के पावन दिन शिव मंदिर में स्थित शिवलिंग पर गाय के दूध से रुद्राभिषेक करें।
  • जिन लोगों के लिए इस दिन बाहर जाना संभव न हो वो घर पर ही पार्थिव का शिवलिंग बनाकर उसका रुद्राभिषेक करें।
  • इस बात का खास ध्यान रखें कि महाशिवरात्रि पर शिव प्रतिमा के समक्ष घर में 24 घंटे अखंड दीप जलता रहें।
  • इस दिन ये उपाय करना बिल्कुल न भूलें, क्योंकि अगर आप ने महाशिवरात्रि पर श्री राम का नाम नहीं लेते तो आपकी पूजा कहीं न कहीं अधूरी मानी जाती है।
  • 108 बेल पत्र पर राम राम लिखकर शिवलिंग पर विवाह का संकल्प लेकर अर्पित करें। इसके अलावा महाशिवरात्रि के दिन विवाह का संकल्प लेते हुए दुर्गासप्तशती का पाठ करना भी लाभदायक माना जाता है।
  • सिद्धि कुंजिकास्तोत्र का 18 बार पाठ करना भी आपको लाभ दिला सकता है।
  • अगर इस दिन निर्जला व्रत रखा जाए तो व्रत का अधिक फल मिलता है। परंतु अपनी सेहत व उम्र के मद्देनज़र निर्जला व्रत का संकल्प लें।
  • उपरोक्त उपायों को लेकर मान्यता है जो भी महाशिव रात्रि के दिन इन उपायों को अपनाता है, भोलेनाथ उस पर प्रसन्न होकर उसके सुखी गृहस्थ जीवन का आशीर्वाद देते हैं।
Source : Agency

आपकी राय

2 + 14 =

पाठको की राय