Sunday, June 7th, 2020

कोरोना वायरस: पढ़िए स्वस्थ हो चुकी महिला की आपबीती, विदेश जाने का है पछतावा, लोगों को भी दे रही सलाह

 अहमदाबाद 
कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद स्वास्थ्य लाभ कर चुकी 34 वर्षीय एक महिला को अब इस बात का पछतावा है कि वह विदेश यात्रा पर क्यों गई थी, क्योंकि इसी यात्रा के दौरान वह कोविड-19 से संक्रमित हो गई थी। अहमदाबाद के अंबावाड़ी इलाके की इस महिला ने अब लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए घरों के अंदर ही रहने की नसीहत दी है।

इस माह के शुरू में फिनलैंड से लौटी इस महिला में कोरोना वायरस के लक्षण उभरने के बाद 18 मार्च को उसकी जांच की गई। संक्रमित पाई गई इस महिला को उसी दिन सरदार वल्लभ भाई अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के बाद स्वस्थ हो चुकी महिला को रविवार को अस्पताल से छुट्टी दी गई। घर पहुंचने पर महिला की सोसायटी के लोगों ने तालियां बजा कर उसका स्वागत किया।

इस महिला ने फोन पर एक न्यूज एजेंसी को बताया 'मेरा निजी अनुभव है कि घरों में रहना ही बेहतर है। न मैं विदेश जाती और न ही मुझे संक्रमण होता। मैं तो कहूंगी कि आप तब तक ही सुरक्षित हैं जब तक आप घर के अंदर हैं।'

भारत में अभी तक 1071 मरीजों की पहचान
पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 92 नए मामले सामने आए हैं और 4 मौते हुई हैं। भारत में COVID19 के कुल मामलों की संख्या 1071 और कोरोना से 29 मौते अब तक हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने सोमवार (30 मार्च) को नई दिल्ली में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बताया।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद  (ICMR) के आर. गंगा. केतकर ने कहा, "अब तक 38,442 टेस्ट किए गए हैं, इसमें से 3,501 टेस्ट रविवार (29 मार्च) को किए गए थे, इसका मतलब है कि हम अभी भी अपनी परीक्षण क्षमता के 30% से कम हैं। पिछले 3 दिनों में 1,334 परीक्षण निजी प्रयोगशालाओं में किए गए हैं।"

Source : Agency

आपकी राय

1 + 15 =

पाठको की राय