Thursday, June 4th, 2020

तबलीगी, ऐसे लोगों का हो शूट एट साइट: JDU

पटना
एक तरफ जहां पूरे देश के साथ बिहार सरकार भी कोरोना को हराने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है, वहीं इसी समाज के एक संप्रदाय की हरकतों ने उस समाज के सभी लोगों को कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है। तबलीगी मरकज में शामिल लोगों की गाजियाबाद के अस्पताल में की गई हरकत को देखते हुए जदयू नेता अजय आलोक ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ शूट एट साइट का ऑर्डर जारी किया जाना चाहिए, साथ ही मुस्लिम इलाकों में जहां कोरोना की जांच के लिए डॉक्टर, मेडिकल टीम और पुलिस पर पथराव हो रहे हैं, उस पूरे इलाके को अगले कुछ दिनों तक सील कर देना चाहिए, ताकि ना तो उस इलाके के लोग बाहर निकल सकें और ना ही वे अपनी मंशा में कामयाब हो सकें।

जदयू नेता डॉ. अजय आलोक ने कहा कि फिलहाल देश में जितने भी मरीज कोरोना संक्रमित हैं, उनमें से 900 सौ से अधिक की संख्या सिर्फ उन मुसलमानों की है जो या तो विदेश से आये हैं या फिर मरकज में शामिल होकर आये थे। उन्होंने कहा कि उन मुस्मिल एरिया में अगर संभव हो तो सेना तक को उतार देनी चाहिए।

तबलीगी जमात के लोगों ने अश्लीलता की सारी हदें पार कर दीं
जदयू नेता अजय आलोक ने कहा कि देश के कई राज्यों के अस्पताल में भर्ती तबलीगी जमात के कोरोना संक्रमित लोगों द्वारा शर्मनाक घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। मुस्लिम इलाकों में जांच के लिए जा रहे डॉक्टर, मेडिकल टीम पर हमले किये जा रहे हैं, मस्जिदों में छिपा कर रखे गये विदेशियों को तलाशने पहुंच रही पुलिस पर भी पथराव करने के साथ गोली चलाने की बात सामने आ रही है। फिर भी देश के मौलानाओं के साथ उनके समर्थक आज भी उन्हें कोसने की जगह मोदी सरकार को ही कोस रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में इलाज के दौरान तबलीगी जमात के लोगों ने नर्सों के अश्लीलता करने का मामला हो या आइसोलेशन वार्ड में पैंट उतार कर नंगे घूमने का मामला, तबलीगी जमात के लोगों ने अश्लीलता की सारी हदें पार कर दी हैं. घबरायी नर्सों ने इलाज करना बंद करना दिया है.

ये लोग देश में मानवता के दुश्मन हैं
गाजियाबाद में तबलीगी मरकज से जुड़े लोगों द्वारा अस्पताल में की गई घटना का जिक्र करते हुए अजय आलोक ने बड़ा बयान दिया है। जेडीयू नेता अजय आलोक ने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ शूट एट साइट का ऑर्डर जारी होना चाहिए क्योंकि ये लोग देश में मानवता के दुश्मन हैं। इनकी हरकत शर्मनाक और घिनौनी है। हमें सख्त होने की जरूरत है क्योंकि कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई को किसी भी कीमत पर जीतना है।

Source : Agency

आपकी राय

1 + 4 =

पाठको की राय