Friday, June 5th, 2020

BCCI ने चुकाई क्रिकेटरों की बकाया राशि, कहा- मुश्किल समय में नहीं होने देंगे किसी को परेशान

 नई दिल्ली 
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने सभी कॉन्ट्रैक्टेड क्रिकेटरों के त्रैमासिक बकाया (क्वॉटर्ली ड्यूज) क्लीयर कर दिए हैं। बीसीसीआई ने साफ किया कि वो नहीं चाहता कि कोविड-19 महामारी (कोरोना वायरस संक्रमण) का असर क्रिकेटरों की कमाई पर पड़े। इस महामारी के चलते दुनिया के तमाम स्पोर्ट्स इवेंट्स या तो रद्द या फिर स्थगित हो गए हैं। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) भी स्थगित हुआ है, जिसका नुकसान बीसीसीआई को झेलना पड़ सकता है।
 
इस महामारी से दुनिया भर की इकॉनमी पर काफी बुरा असर पड़ा है। अभी तक इस महामारी से दुनियाभर में 16 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबिक 95000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। इस बीच इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने संकेत दिए हैं कि खिलाड़ियों की सैलरी में कटौती की जा सकती है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया, 'मार्च 24 तारीख को लॉकडाउन घोषित होने के बावजूद बोर्ड किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार है। सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले सभी क्रिकेटरों को तीन महीने की सैलरी दे दी गई है। इस बीच खेले गए सभी मैचों की बकाया राशि भी क्रिकेटरों को दे दी गई है।'
 

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर खुलकर बोल चुके हैं कि वो सैलरी में कटौती के लिए तैयार हैं। ऑस्ट्रेलिया ने अपने सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट की घोषणा को स्थगित कर दिया।  बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा कि ऐसी मुश्किल परिस्थिति में बोर्ड की फिनैंशियल स्टेबिलिटी का टेस्ट है, बाकी सभी क्रिकेट बोर्ड अपने डोमेस्टिक क्रिकेटरों को भी सैलरी देने के लिए भी जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा, 'हर तरफ सैलरी में कटौती की बात चल रही है लेकिन मुझे लगता है कि बीसीसीआई अपने क्रिकेटरों का अच्छे से ध्यान रख सकता है। ना हमारे इंटरनेशनल और ना ही हमारे डोमेस्टिक क्रिकेटरों को परेशानी उठानी पड़ेगी।'

Source : Agency

आपकी राय

11 + 5 =

पाठको की राय