Friday, July 10th, 2020
Close X

हेयर फॉल से परेशान आजमाएं ये आयुर्वेदिक उपचार

बालों के झड़ने से न सिर्फ महिलाएं बल्‍कि पुरुष भी परेशान रहते हैं। खराब लाइफस्‍टाइल, अनहेल्‍दी डायट और बालों की ठीक से केयर न करने की वजह से यह सभी दिक्‍कतें पैदा होती हैं। लेकिन आयुर्वेद में बालों से जुड़ी समस्‍याओं के लिए अनेक समाधान है, जो आपको मेहंगे से मेहंगे प्रोडक्‍ट लगाकर भी नहीं मिलेगा।

आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां हैं, जो बेहद सस्‍ती हैं और बालों पर जादुई असर दिखाती हैं। आप इन्‍हें अपने बालों पर कई तरीके से उपयोग कर सकते हैं। अगर इन दिनों आप हेयर फॉल से परेशान हैं, तो इन तीन चीजों का जरूर इस्‍तेमाल करें। यहां जानें इन्‍हें बालों में लगाने के फायदे...

आंवला, रीठा और शिकाकाई
आयुर्वेद के अनुसार बालों की हर समस्‍या का समाधाान आंवला, रीठा और शिकाकाई में छुपा हुआ है। इन तीनों को मिलाकर इस्‍तेमाल करने से बाल झड़ने की समस्‍या से मुक्‍ति पाई जा सकती है। आंवला विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो बालों के नुकसान को नियंत्रित करने में मदद करता है। रीठा में आयरन पाया जाता है, जो बालों की कोशिकाओं के विकास को बढ़ावा देता है। शिकाकाई इन दोनों सामग्रियों की अच्‍छी तरह से बालों में समाने में मदद करता है।


 एलोवेरा
स्‍किन हो या फिर बाल, एलोवेरा हर परेशानी को दूर करने में मदद करता है। आप एलोवेरा जेल को अपने बालों में भी लगा सकती हैं। यह आपकी स्कैल्प को नरिश करेगा और हेयर ग्रोथ को बढ़ावा देगा। ताजे एलोवेरा जेल को अपने बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक अच्छी तरह से लगाएं। यह आपको मुलायम, चमकदार और घने बाल प्राप्त करने में मदद करेगा।


भृंगराज
आयुर्वेद की सलाह है कि भृंगराज बालों के विकास को बढ़ावा देने, उन्‍हें मजबूत बनाने और डैड्रफ को रोकने में मदद कर सकता है। बालों की बेहतर सेहत के लिए आप भृंगराज तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें विटामिन ई भी होता है, जो बालों के विकास के लिए सबसे अच्छे विटामिनों में से एक है।

Source : Agency

आपकी राय

14 + 11 =

पाठको की राय