Saturday, July 11th, 2020
Close X

 कंट्रोल रूम में मिला मरीज, NIA हेडक्वार्टर तक पहुंचा कोरोना संक्रमण

 
नई दिल्ली 

दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर दिनोंदिन तेज होता जा रहा है. अब शायद ही कोई विभाग हो, जो इससे अछूता हो. इसी क्रम में शनिवार को नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) में भी कोरोना संक्रमण का पता चला.

रिपोर्ट के मुताबिक, एनआईए कंट्रोल रूम में काम करने वाले एक व्यक्ति को कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ है. संक्रमण का पता चलने के बाद पूरे दफ्तर को सैनिटाइज किया जा रहा है. इसी के साथ संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में 10 लोगों के आने की खबर है जिन्हें क्वारनटीन किया जा रहा है.
 
बता दें, देश भर का कोरोना मरीजों का आंकड़ा बेहिसाब तेजी से भाग रहा है. इसमें दिल्ली के ग्राफ का बड़ा हिस्सा है. राजधानी में भी इस वायरस की वजह से अब संकट गहरा गया है. आफत के बीच दिल्ली में टेस्ट को लेकर सियासत भी तेज हो गई है. दिल्ली का कोई ऐसा कोना नहीं जो कंटेनमेंट जोन में तब्दील न हुआ हो. हालात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यहां कंटेनमेंट जोन की संख्या 163 हो चुकी है. राजधानी में पिछले 24 घंटें में 1,359 नए मामले सामने आए और 22 लोगों की मौत हुई है. इसके साथ ही कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 26,334 हो गई है.

इस बीच, दिल्ली के अस्पतालों से लगातार कोरोना मरीजों की तरफ से शिकायतें आ रही हैं कि उनको बेड नहीं दिए जा रहे हैं. इसे लेकर दिल्ली सरकार ने आदेश जारी किया है कि किसी कोरोना हॉस्पिटल में अगर कोई संदिग्ध मरीज एडमिट है, तो उसको अलग वार्ड में रखा जाए और कोरोना मरीजों के लिए जो आइसोलेशन बेड्स निर्धारित हैं उनको किसी कोरोना संदिग्धों को न दिया जाए.
 
दिल्ली सरकार ने कहा, यह संज्ञान में आया है कि बहुत से बिना लक्षण वाले और हल्के लक्षण वाले मरीज भी अस्पताल में एडमिट किए गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी गाइडलाइन के मुताबिक, यह साफ है कि बिना लक्षण वाले और हल्के लक्षण वाले मरीजों को भर्ती होने की जरूरत नहीं है, उनको होम आइसोलेशन में रखने की सलाह दी गई है.

Source : Agency

आपकी राय

5 + 7 =

पाठको की राय