Thursday, July 2nd, 2020
Close X

देशव्यापी विरोध के बीच डीजल-पेट्रोल की थमी रफ्तार

 
नई दिल्ली

करीब तीन सप्ताह की बढ़त के बाद डीजल के दाम मंगलवार को स्थिर रहे. वहीं, पेट्रोल की कीमत में भी कोई बदलाव नहीं हुआ है. बीते कुछ दिनों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के साथ ही इसका देशव्यापी विरोध भी हो रहा है. ऐसे में तेल कंपनियों पर भी कीमतें स्थिर रखने का दबाव है.

क्या है रेट लिस्ट
इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का भाव क्रमश: 80.43 रुपये, 82.10 रुपये, 87.19 रुपये और 83.63 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर है. डीजल के दाम भी चारों महानगरों में क्रमश: 80.53 रुपये, 75.64 रुपये, 78.83 रुपये और 77.72 रुपये प्रति लीटर पर हैं. इससे पहले सोमवार को तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल के दाम में चार-पांच पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की थी, जबकि डीजल का भाव 11-13 पैसे प्रति लीटर बढ़ा दिया गया था.

दिल्ली में पेट्रोल से महंगा डीजल
देश की राजधानी दिल्ली में इस महीने अब तक डीजल के दाम में 11.14 रुपये लीटर इजाफा हुआ है जबकि पेट्रोल की कीमत 9.17 रुपये लीटर बढ़ गई है. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में पेट्रोल से महंगा डीजल है. बता दें कि पेट्रोल, डीजल के दाम में राज्यों में अंतर होता है क्योंकि हर राज्य में ईंधन पर लगने वाले बिक्री कर अथवा मूल्य वर्धित कर (वैट) की दर अलग अलग है.

कच्चे तेल में नरमी, फिर भी बढ़े दाम
वहीं, इस महीने सात जून से तेल की कीमतों वृद्धि का सिलसिला शुरू हुआ, जिसके बाद 23 दिनों में 22 बार डीजल के दाम में वृद्धि हुई जबकि पेट्रोल की कीमत में 21 बार वृद्धि हुई है. ये बढ़ोतरी ऐसे समय में हुई है जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में नरमी है. बीते सोमवार को अंतरराष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकॉन्टिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का सितंबर वायदा अनुबंध पिछले सत्र से 1.34 फीसदी की कमजोरी के साथ 40.38 डॉलर प्रति बैरल पर बना हुआ था.

Source : Agency

आपकी राय

1 + 7 =

पाठको की राय