Thursday, July 2nd, 2020
Close X

धोनी की वापसी चाहते हैं कुलदीप यादव, बोले- हम सब माही भाई को मिस कर रहे हैं

नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने पिछले साल जुलाई के बाद से क्रिकेट नहीं खेला है। धोनी 2019 वर्ल्ड कप के बाद से क्रिकेट से ब्रेक पर चल रहे हैं। आईपीएल के साथ उन्हें क्रिकेट के मैदान पर वापसी करनी थी, लेकिन कोविड-19 महामारी के चलते आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। अभी तक आईपीएल के नहीं हो पाने की वजह से एक बार फिर से महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास को लेकर सवाल उठने लगे हैं। वहीं, फैन्स बेचैनी से इस बात की प्रतीक्षा कर रहे हैं कि धोनी जल्द ही मैदान पर वापस लौटे, लेकिन इस महामारी की वजह से यह इंतजार लंबा हो रहा है। फैन्स के साथ साथ इंडियन क्रिकेट टीम भी उनकी वापसी का इंतजार कर रही है। हर खिलाड़ी माही भाई की वापसी की राह देख रहा है। स्पिनर कुलदीप यादव ने हाल ही में एक इंटरव्यू में कहा, ''हम सब माही भाई को मिस कर रहे हैं। मैं वास्तव में चाहता हूं कि वह जल्द से जल्द वापस आएं और खेलें। निजी रूप से मुझे लगता है कि उन्हें वापस आकर खेलना चाहिए।''

कुलदीप यादव विकेट के पीछे धोनी की महत्ता का जिक्र कई बार कर चुके हैं। उन्होंने कई बार बताया है कि धोनी अक्सर उन्हें सलाह देते कि किस तरह गेंदबाजी करनी है। वह बल्लेबाज को आउट करने के ट्रिक्स भी बताते। धोनी की सलाह बहुत स्वाभाविक और सहज होतीं। उन्होंने कहा, ''जब हम मैदान पर जाते तो माही भाई हमारे पास आते और कुछ सलाह देते। मेरे करियर में उन्होंने मुझे बहुत सी सलाह दी। वह सहज सलाहकार हैं। वह मैच से पहले या मैच के बाद सलाह नहीं देते। वह मैदान पर अचानक आपको सलाह देते हैं। यही काम विराट भाई करते हैं।''

कुलदीप अकेले ऐसे गेंदबाज हैं, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दो हैट्रिक ली हैं। उनकी पहली हैट्रिक टी20 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ईडंस गार्डन्स में थी। वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे में पिछले साल उन्होंने हैट्रिक ली थी। कुलदीप ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में स्कॉटलैंड के खिलाफ 2014 में भी हैट्रिक ली थी। युजवेंद्र चहल और मयंक अग्रवाल से बातीचत में कुलदीप ने एक बार कहा था, ''वेस्टइंडीज के खिलाफ ली गई हैट्रिक मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण थी, यह मेरे जीवन का खास मौका था। वर्ल्ड कप के बाद मैं और चहल एक साथ प्लेइंग इलेवन में थे। मेरी वनडे टीम में वापसी हुई थी। यह बहुत अहम हैट्रिक थी।''
 

Source : Agency

आपकी राय

8 + 13 =

पाठको की राय