Saturday, October 24th, 2020
Close X

ऑक्सीजन सपोर्ट पर मनीष सिसोदिया, कोरोना के बाद डेंगू से हालत बिगड़ी, LNJP से मैक्स हॉस्पीटल किया गया शिफ्ट

नई दिल्ली
कोविड-19 के बाद डेंगू का शिकार हुए दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की हालत बिगड़ने के बाद लोकनायक जयप्रकाश नारायण हॉस्पीटल से बुधवार की रात उन्हें साकेत स्थित मैक्स अस्पताल में शिफ्ट किया गया। ऑक्सीजल लेवल कम होने के चलते उन्हें वहां पर ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। सिसोदिया का प्लेटलैट्स लगातार गिर रहा है।  इससे पहले, बुखार और ऑक्सीजन लेवल कम होने की शिकायत के बाद उन्हें बुधवार शाम को दिल्ली के लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल (LNJP Hospital) में भर्ती कराया गया था। लेकिन, स्थिति को देखते हुए उन्हें साकेत स्थित मैक्स अस्पताल में शिफ्ट किया जा रहा है। उप-मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से गुरुवार की रात इस संबंध में जानकारी दी गई है। जानकारी के मुताबिक, गुरुवार सुबह बताया गया था कि COVID-19 संक्रमण का इलाज करा रहे आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की हालत अब स्थिर है और अगले कुछ दिन में उनकी संक्रमण को लेकर फिर से जांच की जाएगी।  

कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि के बाद से मनीष सिसोसिया होम आइसोलेशन में रह रहे थे, लेकिन तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें बुधवार को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने कहा था कि वह कल से आईसीयू में हैं, लेकिन उनकी हालत स्थिर है। मंत्री को ऑक्सीजन की मदद दी जा रही है और उनके स्वास्थ्य पर लगातार निगरानी रखी जा रही है। एलएनजेपी कोरोना वायरस के मरीजों के लिए एक कोविड-19 डेडिकेटिड अस्पताल है। डॉक्टर ने कहा कि कुछ दिनों में उनकी आरटी-पीसीआर जांच कराई जाएगी। यह पूछे जाने पर कि क्या सिसोदिया को कोई अन्य रोग भी हैं, डॉक्टर ने कहा कि उन्हें हाइपरटेंशन है। आम आदमी पार्टी (आप) के 48 वर्षीय नेता को बुखार और ऑक्सीजन के स्तर में कमी बाद बुधवार को शाम चार बजे अस्पताल में भर्ती किया गया था। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को कहा कि उन्हें एहतियात के तौर पर अस्पताल में भर्ती किया गया है क्योंकि उनके शरीर का तापमान उच्च बना हुआ था और उनमें ऑक्सीजन का स्तर थोड़ा कम हो गया था। मनीष सिसोदिया की जांच में 14 सितंबर को कोविड-19 की पुष्टि हुई थी।

 

Source : Agency

आपकी राय

10 + 6 =

पाठको की राय