Saturday, December 5th, 2020
Close X

जानिए आपके शहर में दिवाली पर कब है लक्ष्मी पूजन का शुभ मुहूर्त

व्यापारिक प्रतिष्ठान, शोरूम, दुकान, गद्दी की पूजा, कुर्सी की पूजा, गल्ले की पूजा, तुला पूजा, मशीन-कंप्यूटर, कलम-दवात आदि की पूजा का सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त अभिजित- दोपहर 12 बजकर 09 मिनट से आरम्भ हो जाएगा। इसी के मध्य क्रमशः चर, लाभ और अमृत की चौघडियां भी विद्यमान रहेंगी जो शायं 04 बजकर 05 मिनट तक रहेंगी।

सायं 5 बजकर 24 मिनट से रात्रि 8 बजकर 06 तक प्रदोषकाल मान्य रहेगा। इसके मध्य रात्रि 7 बजकर 24 मिनट से सभी कार्यों में सफलता और शुभ परिणाम दिलाने वाली स्थिर लग्न वृषभ का भी उदय हो रहा है। प्रदोष काल से लेकर रात्रि 7 बजकर 5 मिनट तक लाभ की चौघड़िया भी विद्यमान रहेगी। यह भी मां श्रीमहालक्ष्मी और गणेश की पूजा के लिए श्रेष्ठ मुहूर्तों में से एक है। इसी समय परम शुभ नक्षत्र स्वाति भी विद्यमान है जो 8 बजकर 07 मिनट तक रहेगा। सभी गृहस्थों के लिए इसी समय के मध्य में मां श्रीमहालक्ष्मी जी की पूजा-आराधना करना श्रेष्ठतम रहेगा।

जप-तप पूजा-पाठ आराधना तथा विद्यार्थियों के लिए माँ श्री महासरस्वती की वंदना करने का समय रात्रि 8 बजकर 06 से 10 बजकर 49 तक रहेगा।

घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर करन वाली मां श्री महाकाली, प्रेत बाधा से मुक्ति दिलाने वाले भगवान श्रीकाल भैरव की पूजा, तांत्रिक जगत तथा ईस्ट साधना के लिए सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त महानिशीथ काल का आरंभ रात्रि 10 बजकर 49 मिनट से आरंभ होकर मध्य रात्रि पश्चात 1 बजकर 31 मिनट तक रहेगा।

शुभ मुहूर्तमध्य प्रदेश = शुभ मुहूर्त
भोपाल= 5 बजकर 38 मिनट - 7 बजकर 36 मिनट तक
इंदौर= 5 बजकर 45 मिनट - 7 बजकर 44 मिनट तक
उज्जैन= 5 बजकर 45 मिनट - 7 बजकर 43 मिनट तक
ग्वालियर-= 5 बजकर 30 मिनट - 7 बजकर 27 मिनट तक
जबलपुर= 5 बजकर 28 मिनट - 7 बजकर 26 मिनट तक

शुभ मुहूर्त छत्तीसगढ़= शुभ मुहूर्त
रायपुर= 5 बजकर 23 मिनट - 7 बजकर 28 मिनट तक   
बिलासपुर=5 बजकर 21  मिनट - 7 बजकर 20 मिनट तक  
अंबिकापुर=5 बजकर 15 मिनट - 7 बजकर 14 मिनट तक    
चंपा=5 बजकर 19 मिनट - 7 बजकर 18 मिनट तक
अकलतरा=5 बजकर 20 मिनट - 7 बजकर 19 मिनट तक

Source : Agency

आपकी राय

14 + 10 =

पाठको की राय