Tuesday, April 13th, 2021
Close X

नाओमी ओसाका ने दूसरी बार जीता ऑस्ट्रेलियाई ओपन, ब्रैडी को हराया

नई दिल्ली
नाओमी ओसाका ने शनिवार को ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट का महिला एकल का खिताब अपने नाम किया। 23 वर्षीय जापानी खिलाड़ी ने फाइनल में जेनिफर ब्रैडी को 6-4, 6-3 से रौंदा। यह उनके करियर का चौथा ग्रैंडस्लैम था। इससे पहले वह 2018 में भी ऑस्ट्रेलियाई ओपन अपने नाम कर चुकीं हैं।

ग्रैंडस्लैम जीतते ही वर्ल्ड रैंकिंग में तीसरे से दूसरे नंबर पर पहुंचीं इस खिलाड़ी को रॉड लेवर एरेना में जबरदस्त समर्थन मिल रहा था। यह उनकी लगातार 21वीं जीत है। सेरेना विलियम्स जैसी अनुभवी खिलाड़ी को हराकार फाइनल में पहुंचने वालीं ओसाका मुकाबले की फेवरेट थीं। किसी भी ग्रैंडस्लैम के क्वार्टफाइनल में पहुंचने के बाद ओसाका कभी नहीं हारी थी। 23 वर्षीय ओसाका ने मैच के बाद कहा, 'मुझे पता था कि तुम परेशानी खड़ी करोगी, मैं सबसे यही कह भी रही थी और ऐसा ही हुआ।'
 
इससे पहले 2018 में यूएस ओपन के फाइनल में सेरेना को हराने वाली ओसाका चौथी बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले में पहुंची थी। जापान की तीसरी वरीयता प्राप्त ओसाका ने पिछले साल भी यूएस ओपन का खिताब जीता था जबकि 2019 में वह ऑस्ट्रेलियाई ओपन चैंपियन बनी थी।

22वीं वरीय ब्रैडी ने चेक गणराज्य की 25वीं वरीय कारोलिना मुचोवा को तीन सेट तक चले कड़े मुकाबले में 6-4, 3-6, 6-4 से पराजित कर पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में जगह बनाई थी ओसाका ने ही उन्हें पिछले साल यूएस ओपन के सेमीफाइनल में हराया था। मैच के बाद उन्होंने ओसाका की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, 'मुझे पूरा विश्वास है कि घर में बैठकर युवा लड़कियां प्रेरणा पा रहीं होंगी।

Source : Agency

आपकी राय

11 + 14 =

पाठको की राय