Saturday, February 27th, 2021
Close X

जनसुनवाई में कलेक्टर ने 109 आवेदनों को सुना, 24 घंटे में निराकरण हेतु 32 आवेदन अधिकारियों को सौंपे

मुरैना
जनसुनवाई लोगों के लिये काफी मददगार साबित हो रही है, क्योंकि कलेक्टर बी कर्तिकेयन लोगों को तत्काल लाभ दिलाने की मंशा रखते हैं। जनसुनवाई में उन्होंने 23 फरवरी को 109 आवेदनों को सुना जिसमें 32 आवेदन ऐसे निकाले जिन्हें 24 घंटे के अंदर निराकरण करने के लिये अधिकारियों को सौंपा। जनसुनवाई के दौरान अपर कलेक्टर श्री उमेश प्रकाश शुक्ला, संयुक्त कलेक्टर श्री संजीव कुमार जैन,  श्री एलके पांडे, एसडीएम समस्त विभागों के जिलाधिकारी, तहसीलदार, जनपद सीईओ उपस्थित थे।             

जनसुनवाई के दौरान जौरा विकासखण्ड के ग्राम पचैखरा निवासी करीबन 25 लोगों ने कलेक्टर को लिखित में आवेदन प्रस्तुत किया कि ग्राम में राशन वितरण नहीं हो रहा है, इस पर कलेक्टर ने तत्काल डीएसओ श्री भीकम सिंह तोमर को आज ही स्पाॅट पर पहुंचकर पीडीएस की दुकान का निरीक्षण करने तथा राशन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इसके अलावा कलेक्टर ने सबलगढ़ एसडीएम से वर्चुअल काॅन्फ्रेस के माध्यम से सीधे संवाद किया और लोंगो को राशन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। ग्रामीणों ने जब कलेक्टर एवं एसडीएम से वर्चुअल काॅन्फ्रेस के माध्यम से कलेक्टर द्वारा दिये गये निर्देशों को सुना तो ग्रामीण लोग गदगद हो गये और कहने लगे कि ऐसे होती है सुनवाई। कलेक्टर गरीब लोंगो की अवश्य सुनवाई कर रहे है।  

इसके बाद कलेक्टर श्री कार्तिकेयन ने पिछले मंगलवार 16 फरवरी 2021 को जनसुनवाई की थी, जिसमें 33 आवेदन ऐसे तय किये गये थे, जिन्हें 24 घंटे के अंदर निराकरण करने हेतु अधिकारियों को सौंपे गये थे। जिसमें 17 आवेदन निराकरण होना पाये गये थे, शेष 3 आवेदनों पर सुनवाई करने के लिये तिथि तय कर दी गई है, शेष 13 आवेदनों का निराकरण अन्य विभागों से जांच उपरांत ही करने की बात अधिकारियों ने कलेक्टर से कही। इस पर कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा है कि मुझे 24 घंटे वाले आवेदनों में शतप्रतिशत निराकरण चाहिये, ये आवेदन जाइज आवेदन है, उनका निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने कहा कि जिस व्यक्ति का आवेदन 24 घंटे के अंदर निराकरण के लिये मार्क किया गया है, उस आवेदन का निराकरण होना चाहिये, ऐसा नहीं होना चाहिये कि मुझसे कहा कि आवेदन का निराकरण हो गया है और इसके बाद आवेदनकर्ता पुनः जनसुनवाई में आया तो उस अधिकारी की खैर नहीं होगी।

Source : Agency

आपकी राय

4 + 9 =

पाठको की राय