Wednesday, March 20th, 2019

mp news_मतदान के दौरान 100 EVM में आई खराबी, कांग्रेस के दिग्गजों ने चुनाव आयोग से की शिकायत

भोपाल। प्रदेश में विधानसभा के लिए डाले जा रहे वोट के दौरान 100 से ज्यादा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में खराबी की खबर है. कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है. मशीन में खराबी की खबर सामने आने के बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने दावा किया है कि ऐसे मतदान केंद्रों पर ईवीएम की खराबी सामने आई है जहां कांग्रेस के पक्ष में समर्थन ज्यादा है. ईवीएम में आई खराबी के बीच चुनाव आयोग के मुताबिक शुरुआती एक घंटे में छह प्रतिशत से ज्यादा वोट पड़े हैं. चुनाव आयोग का कहना है कि खराब मशीनों को आधे घंटे के अंदर बदल दिया गया.

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बी.एल कांताराव ने बताया, "तीन मतदान केंद्रों पसरवाड़ा, लांजी और बैहर में सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ और बाकी 227 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ."


ईवीएम में खराबी का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, ''कांग्रेस के पोलिंग एजेन्ट्स को दो बातों का ध्यान रखना चाहिये. एक, जो मशीन खराब होती है और जो उसके स्थान पर बदली जाती है उनके नम्बर जरूर नोट कर लें और दूसरा, जो नई मशीन आती है उसे वोटिंग चालू करने के पूर्व 50 से 100 वोट डाल कर चेक जरूर करें.''


ईवीएम पर सवाल उठाने के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कांग्रेस को घेरा और कहा कि पूरे पांच साल अब कमलनाथ ट्वीट ही करेंगे. ईवीएम पर सवाल उठना ये साबित करता है कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली है. राकेश सिंह ने आज जबलपुर में अपना वोट डाला.


कांग्रेस ने उठाए सवाल


ईवीएम में खराबी को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा, ''बड़ी संख्या में ईवीएम मशीन खराब और बंद होने की जानकारी सामने आ रही है. इस कारण मतदान प्रभावित हो रहा है. मतदान केंद्रों पर लंबी कतारें लग गयी है. इतनी बड़ी गड़बड़ी कैसे? चुनाव आयोग तुरंत इस पर निर्णय ले. तत्काल बंद मशीनों को बदले.''


ग्वालियर मतदान केंद्र पर वोट डालने पहुंचे कांग्रेस नेता और राज्य प्रचार समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि हमारी पार्टी सूबे में पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएगी. वोट डालने के बाद उन्होंने कहा कि राज्य में बदलाव का माहौल है.


बता दें कि राज्य में 15 साल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पिछले 13 साल से सूबे के मुख्यमंत्री बने हुए हैं. राज्य की सत्ता से बीजेपी को हटाने के लिए कांग्रेस ने पूरी कोशिश की है. इस विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी ने प्रचार का नेतृत्व किया. राहुल के साथ कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत कई कांग्रेसी नेता चुनावी मैदान में साथ दे थे. वहीं बीजेपी की ओर से पीएम मोदी ने मोर्चा संभाला था. पीएम के अलावे पार्टी की ओर से खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष अमति शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई नेता चुनावी प्रचार मैदान में उतरे थे.
 

Source : desk

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

11 + 4 =

पाठको की राय