Saturday, January 19th, 2019

रिश्ते पर पड़ता है स्लीपिंग पोजिशन का असर

साइकॉलजिस्ट्स की मानें तो एक हैपी कपल के लिए साथ में टाइम बिताना, एक दूसरे से बातें शेयर करना ही इम्पॉर्टेंट नहीं है बल्कि बिस्तर पर आप दोनों एक दूसरे के साथ कितने कंफर्टेबल हैं- इस बात से भी यह पता चलता है कि आपका रिश्ता कितना मजबूत है। साथ ही आपके स्लीपिंग पोजिशन का असर इस बात पर भी पड़ता है कि आप दोनों अपनी फीलिंग्स को एक दूसरे से किस तरह से व्यक्त कर पाएंगे। लेकिन साथ में सोने का मतलब यह नहीं कि आपको अपने सोने के तरीके के साथ कॉम्प्रमाइज करने की जरूरत है। हम आपको बता रहे हैं कि पार्टनर के साथ किस पोजिशन में सोना आपके लिए बेस्ट रहेगा...

साइड स्लीपर
अगर दोनों पार्टनर को करवट लेकर सोना पसंद है तो बेहतर होगा कि आप एक दूसरे से बिलकुल सट जाएं और स्पून पॉस्चर बनाकर सोएं। इस पोजिशन में सोने से आपके स्पाइनल कॉर्ड पर प्रेशन नहीं पड़ेगा और आपकी पीठ को भी सपॉर्ट मिलेगा।

बैक स्लीपर
अगर आप दोनों को ही पीठ के बल सोना पसंद है तो इस दौरान भी आप अपनी स्पाइन को नुकसान पहुंचाएं बिना पार्टनर के साथ आरामदायक तरीके से सो सकते हैं। आप दोनों ही चूंकि पीठ के बल सोना पसंद करते हैं लिहाजा एक दूसरे से सटकर सोएं। आप चाहें तो एक तकिया सिर और पैर के नीचे शेयर कर सकते हैं। याद रखें पैरों के नीचे रखा तकिया आपके स्पाइनल कॉर्ड को सपॉर्ट देने के लिए जरूरी है।

स्टमक स्लीपर
अगर आप दोनों को ही पेट के बल सोने की आदत है तो इसका मतलब है कि आप दोनों को सोते वक्त स्पेस पसंद है और आप नहीं चाहते कि आपका पार्टनर आपसे बहुत ज्यादा चिपककर सोए। पेट के बल सोने वालों को पेट के पास बेहद पतला तकिया या सॉफ्ट मैट्रेस रखना चाहिए ताकि पीठ पर किसी तरह का प्रेशर न पड़े। एक पार्टनर चाहे तो दूसरे पार्टनर के पैर पर अपना पैर रखकर सैडल पोजिशन बनाकर सो सकते हैं।

साइड ऐंड बैक स्लीपर
अगर आप दोनों की स्लीपिंग पोजिशन अलग-अलग है तब भी परेशान होने की जरूरत नहीं। अगर आपमें से एक साइड स्लीपर है यानी करवट लेकर सोने वाला और दूसरा पीठ के बल सोने वाला तो आपके लिए यह पोजिशन सही रहेगी। आप एक दूसरे की पीठ को नुकसान पहुंचाए बिना एक दूसरे से सटकर सोएं इसके लिए साइड स्लीपर को पीठ के बल सो रहे पार्टनर की तरफ अपना फेस करके सोना चाहिए लेकिन साइड में अपना हाथ रखने से बचें।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

15 + 13 =

पाठको की राय