Wednesday, January 23rd, 2019

पीवी सिंधू को उम्मीद, विश्व टूर फाइनल्स के खिताब के बाद आलोचनाएं नहीं होनी चाहिए

बेंगलुरू 
बैडमिंटन सनसनी पी वी सिंधू को उम्मीद है कि विश्व टूर फाइनल्स के खिताब के उनके आलोचकों का मुंह बंद होना चाहिए जिन्होंने उन्हें रजत पदक जीतने वाली खिलाड़ी तक सीमित कर दिया था। सिंधू ने पिछले महीने ग्वांग्झू में फाइनल में जापान में नोजोमी ओसाका को 21-19, 21-17 से हराकर खिताब जीता था। सिंधू ने कहा कि मैं पिछले साल भी फाइनल्स में पहुंची थी और मैं परिणाम से संतुष्ट नहीं थी। मैंने इस बार सकारात्मक खेल खेला और खिताब जीता। मैं खुश थी और उम्मीद है कि आगे अब इस तरह की आलोचनाएं नहीं होंगी कि मैं केवल रजत पदक जीतने वाली खिलाड़ी तक सीमित हूं। उन्होंने कहा कि पिछले साल जब मैं फाइनल्स में हारी थी तो मुझे बुरा नहीं लगा और ना ही मैं आलोचनाओं से प्रभावित हुई लेकिन मैं खुश थी चलो मैं पहले दौर में तो बाहर नहीं हुई। सिंधू ने इसके साथ ही कहा कि आल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप बड़ी प्रतियोगिता है और किसी भी शीर्ष खिलाड़ी के लिये इसका खिताब जीतना आसान नहीं है। उन्होंने कहा कि हम सभी को उसके लिये तैयारी करनी होगी। लेकिन अभी मैं इंडोनेशियाई ओपन पर ध्यान दे रही हूं।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

15 + 1 =

पाठको की राय