Thursday, June 27th, 2019

 अमित शाह गरजे, कहा- आने वाला चुनाव युद्ध की तरह

नई दिल्ली                
दिल्ली के रामलीला मैदान में भारतीय जनता पार्टी (BJP) का राष्ट्रीय शुरू हो गया है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने शुरुआती संबोधन में बीजेपी कार्यकर्ताओं से लोकसभा चुनाव 2019 के लिए युद्ध की तरह जुट जाने को कहा. अमित शाह ने कहा कि आने वाला चुनाव युद्ध की तरह है, और इसमें जीत के लिए कार्यकर्ताओं को जी जान से लग जाना होगा. अमित शाह ने कहा, "2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है, दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी है, 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है."

गठबंधन पर किया हमला

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महागठबंधन ढकोसला है. उन्होंने कहा कि कल तक जो लोग एक-दूसरे का मुंह तक नहीं देखते थे, वे आज चुनाव के नाम पर एकसाथ आ गए हैं. अमित शाह ने इस दौरान सरकार के कई कामों का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने गरीबों और युवाओंं के लिए काम किया है, जिसके लिए उनका सम्मान किया जाना चाहिए.

भाजपा चाहती है- भव्य राम मंदिर बने

हमने घोषणा पत्र में राम मंदिर के लिए वादा किया. भाजपा चाहती है कि उसकी जगह पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो. सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है. हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द सुनवाई पूरी हो. हमने कहा है कि संवनैधानिक तरीके से राम मंदिर का निर्माण होगा. लेकिन कांग्रेस इसमें रोड़े अटका रही है. भाजपा का कार्यकर्ता आश्वस्त रहे कि हम मंदिर बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

हमारा नेतृत्व सबसे अच्छा

अमित शाह ने कहा कि मैं मोदी के साथ 1987 से काम कर रहा हूं. उन्होंने कहा कि भाजपा के पास दो करोड़ से बढ़कर नौ करोड़ कार्यकर्ता हो गए हैं. आज भाजपा का नेतृत्व दुनिया में सबसे अच्छा है, जो हमें आने वाले चुनावों में जीत दिलाएगा. ये नेतृत्व ही दुनिया में भारत को गौरव के साथ खड़ा करने का काम करेगा. नए भारत की कल्पना केवल प्रधानमंत्री मोदी की नहीं है, यह देश के लाखों युवाओं की है. मोदी जी के अलावा भारत में और कोई मजबूत सरकार नहीं दे सकता.

जीएसटी मददगार, 10 फीसदी आरक्षण ऐतिहासिक

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि आज जीएटसी काउंसिल में हर बार किसी न किसी वस्तु के दाम कम किए जाते हैं. उन्होंने जीएसटी को मददगार बताया. उन्होंने कहा कि नोटबंदी का फैसला करके फर्जी कंपनियों पर भी कार्रवाई की गई. इसके साथ ही उन्होंने सवर्ण आरक्षण का भी जिक्र किया और कहा कि 10 फीसदी आरक्षण देने का ऐतिहासिक काम मोदी सरकार में ही हुआ, जो युवाओं को नौकरी और शिक्षा में अहम जगह दिलाएगा. कांग्रेस में इसका विरोध करने की हिम्मत नहीं थी. कांग्रेस ने भी अपने घोषणा पत्र में ये वादा किया था, लेकिन वह केवल देखने-दिखाने के लिए ही था. उन्होंने कहा कि उरी में जवानों के साथ हुई बर्बरता के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला किया. इससे दुनिया का भारत को देखने का अंदाज बदल गया.

भ्रष्टाचार पर लगाई लगाम

पार्टी अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं को कहा कि मोदी सरकार में भ्रष्टाचार में नकेल लगाने का काम किया गया. इसके लिए बेनामी संपत्ति कानून लगाया गया. काला धन देश में वापस लाया गया. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार बेदाग सरकार है, इसके कामों ने कार्यकर्ताओं और देशवासियों का सिर ऊंचा किया है. उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी पर या उनकी सरकार पर एक भी दाग नहीं लगा है.

राफेल मामले पर कांग्रेस की हार

अमित शाह ने कहा कि राफेल डील के मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर कोरे आरोप लगाए, जो खुद और उनकी मां सोनिया गांधी टैक्स के मामले में जमानत पर चल रहे हैं. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया कि इस मामले में जांच की जरूरत नहीं है. इसके बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने ढाई घंटे तक विपक्ष के सारे सवालों को तार-तार कर दिया.

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

13 + 12 =

पाठको की राय