Wednesday, March 20th, 2019

माया-अखिलेश के फॉर्म्युले से अजित नाखुश!

नई दिल्ली/ लखनऊ 
लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में कल होने जा रहे महागठबंधन के ऐलान से पहले सियासी हलचल तेज है। समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) सुप्रीमो मायावती कल दोपहर एक मंच से इसकी घोषणा करने जा रहे हैं। इस बीच गठबंधन के एक साथी राष्ट्रीय लोकदल ने इस ऐलान से ऐन पहले सीटों का दांव खेल दिया है। माया, अखिलेश के फॉर्म्युले से नाखुश आरएलडी ने अपने लिए 6 सीटों की शर्त रखी है। आरएलडी के प्रदेश अध्यक्ष मसूद अहमद ने कहा है कि उनकी पार्टी प्रदेश की छह सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है। 


अहमद ने कहा महागठबंधन के लिए शनिवार को माया-अखिलेश की होने वाली साझा प्रेस कॉन्फ्रेस के लिए पार्टी को न्योता नहीं मिला है। हालांकि उन्होंने बताया कि पार्टी के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी कल राजधानी लखनऊ में रहेंगे। माना जा रहा है कि दोनों नेताओं से वे बाद में मुलाकात कर सकते हैं। जयंत चौधरी इससे पहले अखिलेश से मंगलवार को उनके कार्यालय में मुलाकात कर चुके हैं। 

सीटों पर अभी बात नहींः अजित सिंह
वहीं आरएलडी चीफ अजित से जब शुक्रवार को सीट बंटवारे को लेकर सवाल किया, तो उन्होंने कहा कि गठबंधन के साथियों से बातचीत के बाद ही इस पर फैसला होगा। प्रदेश में एसपी-बीएसपी गठबंधन पर अजित सिंह ने कहा, 'अभी सीटों पर बातचीत नहीं हुई है। गठबंधन के साथियों से बात करेंगे, जिसके बाद ही कोई फैसला होगा। एसपी-बीएसपी प्रमुख की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की मुझे जानकारी नहीं है।' 

मायावती RLD को 3 सीटें देने पर अड़ीं! 
सूत्रों के मुताबिक मायावती, आरएलडी को तीन सीटों से ज्यादा देने के लिए राजी नहीं हैं, जबकि आरएलडी कम से कम छह सीटें चाहती है। गठबंधन के तहत मथुरा, बागपत और मुजफ्फरनगर की सीटें आरएलडी को दी जा सकती हैं, लेकिन पार्टी और सीटें चाहती है। मसूद अहमद ने कहा, 'पार्टी महागठबंधन का हिस्सा है और पार्टी नेतृत्व ने लोकसभा चुनाव में छह सीटों की मांग की है , ये सीटें हैं बागपत, मथुरा, मुजफ्फरनगर, हाथरस, अमरोहा और कैराना।' उन्होंने कहा कि कैराना लोकसभा सीट तो आरएलडी के पास पहले ही है अब पांच सीटों की और मांग की गई है । इस बारे में फैसला पार्टी के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी और एसपी सुप्रीमो अखिलेश यादव तथा बीएसपी सुप्रीमो मायावती के बीच बातचीत के बाद तय होगा। 

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

6 + 3 =

पाठको की राय