Saturday, March 23rd, 2019

जयंती भानुशाली हत्या मामले में मनीषा गोस्वामी समेत हिरासत में 2 शार्प शूटर

नई दिल्ली            
भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक जयंती भानुशाली हत्या मामले में पुलिस ने मनीषा गोस्वामी के साथ दो अन्य शार्प शूटरों को पकड़ा है. पुलिस का दावा है कि अब वह हत्या के पीछे की वजह का पता लगा लेगी. जयंती भानुशाली हत्या मामले में पुलिस की स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम ने 2 शार्प शूटर शेखर और सुरजीत के साथ इस हत्या की मास्टरमाइंड मानी जाने वाली मनीषा गोस्वामी को भी हिरासत में लिया है.

चलती ट्रेन में गोली मारकर बीजेपी नेता जयंती भानुशाली की हत्या की गई थी. भानुशाली को हत्यारों ने उन्हें 2 गोली मारी थी, जिसमें से एक गोली आंख के पास और दूसरी गोली सीने में मारी गई थी. वारदात के समय भानुशाली फर्स्ट AC में यात्रा कर रही थीं. सह प्रवासी पवन मोरे के बयान और रेलवे स्टेशन से मिले सीसीटीवी के आधार पर हत्यारों का स्कैच तैयार किया गया था.

परिवार वालों ने पहले ही पुलिस को बताया था कि मनिषा गोस्वामी नाम की महिला उनसे 3 करोड़ रुपये की मांग कर रही थी. इसके लिए वो उन्हें ब्लैकमेल भी करती थी. हालांकि, पुलिस जांच में पाया गया कि तीन जनवरी को जब भानुशाली मुंबई से भुज पहुंचे थे तब यही मनीषा नाम की महिला उनके साथ थी. जांच में यह भी सामने आया है कि यह वही महिला है जिसने भानुशाली पर बलात्कार का आरोप लगाया था. बाद में हाईकोर्ट ने भानुशाली के खिलाफ लगाए आरोप को गलत बताया था और उन पर दर्ज एफआईआर को रद्द करने का आदेश दिया था.

पुलिस ने मनीषा को भुज से और शार्प शूटर शेखर और सुरजीत को उत्तर प्रदेश से हिरासत में लिया है. हालांकि, पुलिस इन लोगों से पूछताछ कर रही है. पुलिस का मानना है कि यह लोग तो हत्या के पीछे सिर्फ मोहरा थे, मास्टरमाइंड कोई और है.

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

13 + 9 =

पाठको की राय