Thursday, May 23rd, 2019

संकट की घड़ी में सेना और सरकार के साथ: RSS

नई दिल्ली 
पुलवामा में हुए आतंकी हमले की राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कड़ी निंदा की है। आरएसएस ने सरकार इस हमले के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। आरएसएस के ट्विटर हैंडल से संघ के सरकार्यवाह भैयाजी जोशी के हवाले से ट्वीट में कहा गया, 'जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए कायराना आतंकी हमले की हम घोर निंदा करते हैं। आतंकवाद पर कसते हुए शिंकजे की बौखलाहट और निराशा ही इस घटना से साफ दिखाई देती है। सरकार इस घटपा के दोषियों पर शीघ्र कड़ी से कड़ी कार्रवाई करे।' 

इसके अलावा बयान में कहा, 'राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ संकट की इस घड़ी में सेना और सरकार के साथ है। हम शहीद जवानों के प्रति विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं और उनके परिजनों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हैं।' 

बता दें कि जम्मू-कश्मीर पुलवामा जिले में गुरुवार शाम हुए एक बड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए हैं। शहीद जवानों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। उरी में सितंबर 2016 में हुए आतंकी हमले के बाद कश्मीर में यह सुरक्षाबलों पर अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला है। गुरुवार को श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर स्थित अवंतिपोरा इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक काफिले को निशाना बनाया। इस हमले के बाद दक्षिण कश्मीर के कई इलाकों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। 

इस हमले की निंदा करते हुए पीएम ने कहा, 'पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुआ हमला बेहद घृणित है। मैं इस कायराना हमले की कठोर निंदा करता हूं। हमले में शहीद हुए जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। पूरा देश शहीदों के परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द ठीक हों।' पीएम मोदी ने बताया कि उन्होंने इस मामले में सुरक्षा एजेंसियों के टॉप ऑफिसर और गृह मंत्री राजनाथ सिंह से इस पूरे मामले पर विस्तार से जानकारी ली है। 

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

7 + 4 =

पाठको की राय