Thursday, May 23rd, 2019

राम मंदिर नहीं, फिलहाल पुलवामा को मुद्दा बनाएगा RSS

 नागपुर 
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले ने पूरे देश को हिला दिया। माना जा रहा है कि आतंकियों की नापाक हरकत के बाद राष्टीय स्वयंसेवक संघ ने भी राम मंदिर से ऊपर आतंकवाद को मुद्दा बनाने की राह पकड़ने की योजना बनाई है। संघ की विदर्भ प्रांत में मंगलवार को हुई मीटिंग में ऐसे संकेत देखने को मिले। अगले महीने से संघ अपना अभियान शुरू करने जा रहा है। उससे पहले ऐसी प्रांत स्तर की बैठकें की जा रही हैं।   
बता दें कि इसी महीने की शुरुआत में राम मंदिर को मुद्दा बनाकर धीरे-धीरे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वापस सत्ता में लाने के लिए ड्राइव की शुरुआत की गई। हालांकि, 14 फरवरी को सीआरपीएफ काफिले पर हुए हमले के बाद संघ ने अपने कैंपेन की शक्ल बदलने के बारे में सोचना शुरू कर दिया है। 

कश्मीर के हालात से निपटने के लिए पीएम मोदी जरूरी 
आरएसएस के सूत्रों के मुताबिक अब संघ का मुद्दा रहेगा- स्थिर सरकार बने, जिसकी कश्मीर के हालात से निपटने के लिए भारत को जरूरत है। संघ परिवार के कार्यकर्ता अब हर परिवार को स्थिर सरकार के लिए पीएम मोदी को वापस लाने की जरूरत के बारे में बताएंगे। कार्यकर्ताओं को पिछले पांच साल में मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धियों वाली बुकलेट भी बांटी गई है। इसमें कांग्रेस की 50 सालों की सरकार के साथ तुलना भी की गई है। 

कार्यकर्ताओं को साफ निर्देश दिए गए हैं कि न सिर्फ ऐसे लोगों से मिलें जो पहले ही भारतीय जनता पार्टी की ओर रुझान रखते हैं, बल्कि उनसे भी जो गैर-बीजेपी पार्टियों की ओर या तटस्थ हैं। जरूरत पड़ने पर लगातार यह समझाते रहने के लिए कहा गया है कि पीएम मोदी का दोबारा चुने जाने से क्या फायदे होंगे। 
 

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

1 + 3 =

पाठको की राय