Friday, March 22nd, 2019

दिल्ली में AAP और कांग्रेस में हो सकता है गठबंधन!

हैदराबाद
लोकसभा चुनाव को लेकर दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर फिर से कवायद शुरू होने के आसार हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एम वीरप्पा मोइली ने गुरुवार को कहा कि दावा किया कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करने के फैसले पर भी पुर्निवचार चल रहा है। कांग्रेस नेता ने इन बातों को खारिज कर दिया कि भाजपा नीत राजग से मुकाबला करने के लिए विपक्ष की एकता वांछित स्तर पर नहीं हो रही है। 

 केरल जैसे राज्यों में चुनाव पूर्व गठबंधन संभव नहीं 
मोइली ने कहा कि केरल जैसे राज्यों में चुनाव पूर्व गठबंधन संभव नहीं है।  उन्होंने कहा, ‘‘हम केरल में वाम दलों के खिलाफ लड़ रहे हैं-चुनाव पूर्व एकता वहां संभव नहीं है।   मोइली ने कहा, ‘‘सभी विपक्षी पार्टियां साझा दुश्मन-भाजपा के खिलाफ एकजुट हैं।’’ उन्होंने कांग्रेस महासचिव बनने के बाद अहमदाबाद में प्रियंका गांधी वाड्रा के पहले सार्वजनिक भाषण को ‘शानदार’ करार दिया।   

कुछ हिस्सों में ‘गठबंधन’ के साथ तालमेल कर सकती है कांग्रेस
वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि कहा कि उनकी पार्टी नहीं चाहती कि आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन चुनाव हारे और वह कुछ हिस्सों में ‘गठबंधन’ के साथ तालमेल कर सकती है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में अपने दम पर चुनाव लडऩे का फैसला किया जब सपा-बसपा ने उसे सिर्फ दो सीटों की पेशकश की। चुनावी ²ष्टि से महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं। मोइली ने साक्षात्कार में कहा, ‘‘कांग्रेस जैसी राष्ट्रीय पार्टी के लिये हम इसे स्वीकार (दो सीटों की पेशकश को) नहीं कर सकते। इसलिए हम उम्मीदवार उतार रहे हैं।’’     

केजरीवाल ने की थी कांग्रेस से अपील
इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस से अपील की थी कि वे भाजपा को हरियाणा में हराने के लिए तो कम से कम हमारे साथ आए। दिल्ली में चुनावी रैली का आगाज करते हुए केजरीवाल ने कहा था कि अगर हरियाणा में कांग्रेस आप के साथ आती है तो भाजपा को हम 10 सीटों से हरा सकते हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि आप दिल्ली में अकेले ही चुनाव लड़ेगी। केजरीवाल ने रैली में कहा कि देश के लोग अमित शाह और मोदी की जोड़ी को हराना चाहते हैं। अगर हरियाणा में जननायक जनता पार्टी (JJP), AAP और कांग्रेस साथ लड़ते हैं तो हरियाणा की दसों सीटों पर भाजपा हारेगी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी इस पर विचार करें। 

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

10 + 12 =

पाठको की राय