Friday, March 22nd, 2019

राजद प्रमुख लालू प्रसाद के ट्विटर को लेकर चुनाव आयोग चौकन्ना

 पटना
 
राजद प्रमुख लालू प्रसाद के ट्विटर को लेकर चुनाव आयोग चौकन्ना है। आयोग के अनुसार कोई भी व्यक्ति जेल में मोबाइल का इस्तेमाल नहीं कर सकता है। इसके लिए उस पर जेल मैनुअल के तहत कार्रवाई की जा सकती है। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने गुरुवार को कहा कि अगर कोई व्यक्ति हैंडलर के माध्यम से ट्वीट करता है तो कार्रवाई का प्रावधान नहीं है। अगर अनुसंधान में यह पाया गया कि जेल में रहने वाला कोई स्वयं मोबाइल से ट्वीट करता है तो कार्रवाई हो सकती है। ट्विटर हैंडलर के माध्यम से भी अगर कोई विवादास्पद बातें ट्वीट करता है तो कार्रवाई की जा सकती है। 

श्री सिंह ने बताया कि सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए सूचना जनसंपर्क विभाग के सहयोग से आठ सदस्यीय टीम बनायी गयी है। अलग से सोशल मीडिया प्रकोष्ठ भी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया सहित किसी भी चुनाव संबंधी किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज कराने के लिए यूनिवर्सल नंबर 1950 डॉयल कर सकता है।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

4 + 11 =

पाठको की राय