Monday, July 22nd, 2019

फेसबुक पर करते हैं उल्टे-सीधे पोस्ट तो सावधान, कंपनी घर आकर करेगी पड़ताल

आप में से अधिकतर लोगों के फेसबुक अकाउंट्स होंगे। ऐसे में आप तमाम तरह के पोस्ट लाइक करते होंगे, कई बार आप कॉमेंट भी करते होंगे और कई बार आप कुछ पोस्ट भी करते होंगे। लोकसभा चुनाव सिर पर है। ऐसे में कई लोग फेसबुक पर राजनीतिक पोस्ट भी कर रहे हैं लेकिन यदि आप भी ऐसा कर रहे हैं तो आपको बेहद सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि आपके द्वारा की गई पोस्ट की जांच के लिए फेसबुक आपके घर तक जा सकता है।

आप में से अधिकतर लोगों के फेसबुक अकाउंट्स होंगे। ऐसे में आप तमाम तरह के पोस्ट लाइक करते होंगे, कई बार आप कॉमेंट भी करते होंगे और कई बार आप कुछ पोस्ट भी करते होंगे। लोकसभा चुनाव सिर पर है। ऐसे में कई लोग फेसबुक पर राजनीतिक पोस्ट भी कर रहे हैं लेकिन यदि आप भी ऐसा कर रहे हैं तो आपको बेहद सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि आपके द्वारा की गई पोस्ट की जांच के लिए फेसबुक आपके घर तक जा सकता है।

दरअसल फेसबुक पर भारत में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर काफी दबाव है। ऐसे में फेसबुक भी कोशिश कर रहा है कि चुनाव के दौरान उसके प्लेटफॉर्म का गलत इस्तेमाल ना हो। इसी कड़ी में फेसबुक ने घर जाकर फेसबुक पोस्ट की जांच शुरू कर दी है। नई दिल्ली के रहने वाले एक शख्स के घर फेसबुक की टीम जांच के लिए पहुंच भी चुकी है।

एक समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक पर राजनीतिक पोस्ट करने के बाद दिल्ली के रहने वाले शख्स के घर फेसबुक के दो अधिकारी जांच के लिए गए थे। दरअसल फेसबुक लोगों के घर जाकर चेक कर रही है कि आपकी टाइमलाइन पर जो पोस्ट हुआ है वह आपने ही किया है या नहीं। घर पहुंचने के बाद फेसबुक की टीम लोगों से पहचान पत्र भी मांग रही है।

वैसे भले ही अपने आप में यह चौंकाने वाला मामला है लेकिन फेसबुक ने यूजर के घर जाकर आईटी एक्ट 2000 का उल्लंघन किया है। सुप्रीम कोर्ट के वकील और साइबर मामलों के एक्सपर्ट पवन दुग्गल के मुताबिक फेसबुक अपने किसी यूजर के पोस्ट को डिलीट कर सकती है लेकिन किसी के घर जाकर जांच नहीं कर सकती, क्योंकि फेसबुक के इस कदम से किसी की निजता का उल्लंघन होता है।

वहीं दिल्ली के रहने वाले शख्स का कहना है कि क्या सरकार के निर्देश पर उसके घर फेसबुक पहुंची थी या फेसबुक ने खुद यह कदम उठाया है। यूजर का कहना है कि उसने फेसबुक पर एक राजनीतिक विचार लिखा था।
नोट- वैसे तो फेसबुक की ओर से इस मामले पर कोई बयान नहीं आया है लेकिन यदि आप भी फेसबुक पर राजनीतिक पोस्ट कर रहे हैं तो थोड़ा सावधान रहें, क्योंकि हो सकता है कि फेसबुक की टीम आपके घर वेरिफिकेशन के लिए जाए। यदि इस खबर के संबंध में आपके पास कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कॉमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

11 + 6 =

पाठको की राय