Monday, July 22nd, 2019

Honor बनना चाहता है भारत का नंबर 1 स्मार्टफोन ब्रैंड, लाएगा सस्ते स्मार्टफोन

चीन की मोबाइल कंपनी Huawei की सब-ब्रैंड Honor की नजर भारत के स्मार्टफोन मार्केट की नंबर एक कंपनी बनने पर है। एक टॉप एग्जिक्युटिव ने बताया कि कंपनी अपनी नई ब्रैंडिग के तहत भारत में मैन्युफैक्चरिंग बढ़ाने और यहां से दूसरे देशों में एक्सपोर्ट करने के लिए नए निवेश की योजना बना रही है। कंपनी ऑफलाइन मार्केट में अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए रीटेल स्टोर्स का एक मजबूत नेटवर्क खड़ा करने के बारे में भी विचार कर रही है।

ऑनर के ग्लोबल प्रेसिडेंट जॉर्ज झाओ ने इकनॉमिक टाइम्स को बताया, 'हमने अपनी रणनीति के तहत भारत के लिए खासतौर से प्रॉडक्ट विकसित किए हैं और उनके फीचर में वहां की जरूरतों को देखते हुए बदलाव किया है। भारत में ऑफलाइन स्टोर्स, मैन्युफैक्चरिंग और प्रॉडक्ट पोर्टफोलियो के विस्तार में हमारी ग्लोबल टीम भी अब पूरा सहयोग देगी।' उन्होंने कहा, 'हम नए निवेश करने को भी तैयार हैं। इससे हमारी ग्रोथ को और मजबूती मिलेगी।'

कंपनी ने अपने नई ब्रैंडिंग और रणनीति का पिछले साल चीन में ऐलान किया था, जिसे इस साल भारत में लागू किया जाएगा। ऑनर 2018 में शाओमी को पीछे छोड़ते हुए चीन की नंबर वन ऑनलाइन ब्रैंड बन गई थी और अब वह भारत में भी इसी सफलता को दोहराने की योजना बना रही है।


आईडीसी के मुताबिक, 2018 की चौथी तिमाही में हुआवे (हुआवे और ऑनर को मिलाकर) 16.1 पर्सेंट मार्केट शेयर के साथ दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी मोबाइल ब्रैंड थी, जबकि इसके मुकाबले शाओमी के पास सिर्फ 7.6 पर्सेंट शेयर था। काउंटरप्वाइंट रिसर्च के आंकड़ों के मुताबिक, 2018 में 183 पर्सेंट की ग्रोथ के साथ ऑनर भारत का दूसरा सबसे तेजी से उभरता हुआ ब्रैंड था और 3.2 पर्सेंट मार्केट शेयर के साथ यह 8वें नंबर पर था।


झाओ ने बताया, 'हमने चीन में साबित किया है कि हम मार्केट लीडर बन सकते हैं। हम बिना कोई गलती किए भारत में भी इस सफलता को दोहराना चाहते हैं। भारत हमारे लिए एक अहम बाजार है और इसने वैल्यू साबित भी की है।' उन्होंने बताया कि ऑनर के पास भारत के लिए एक स्पष्ट रणनीति है।


ऑनर नई रणनीति के तहत 7,000 रुपये से लेकर 40,999 रुपये तक की कीमत के स्मार्टफोन उतारेगी। इस तरह से वह स्मार्टफोन मार्केट के हर सेगमेंट में चुनौती पेश करेगी। वहीं हुआवे एक ब्रैंड के तौर पर 60,000 रुपये और उससे ऊपर की कैटिगरी के अल्ट्रा-प्रीमियम हैंडसेट पर फोकस करेगी। उस सेगमेंट में वह ऐपल और सैमसंग जैसी कंपनियों से मुकाबला करेगी।


एग्जिक्युटिव ने यह भी बताया कि ऑनर की मैनेजमेंट टीम भारत से दूसरे देशों में स्मार्टफोन एक्सपोर्ट करने के बारे में भी सोच रही है। कंपनी भारत में 2016 से ही कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरर फ्लेक्स के जरिए प्रॉडक्ट्स बना रही है।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

4 + 8 =

पाठको की राय