Thursday, June 27th, 2019

वजन घटाने से लेकर पथरी और डायबीटीज दूर करता है जौ

बार्ले यानी जौ को दुनिया के सबसे पुराने अनाजों में से एक माना जाता है। भले ही इस अनाज को आमतौर पर खाने में इस्तेमाल में नहीं किया जाता है, लेकिन पूजा-अर्चना और स्किन के लिए इसे इस्तेमाल किया जाता रहा है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि जौ को अगर आप डायट में शामिल कर लें खासकर नाश्ते में तो क्या-क्या फायदे हो सकते हैं?

​पथरी से बचाव
जौ में फाइबर कॉन्टेंट काफी मात्रा में होता है और यह पित्त की थैली में पथरी होने से भी बचाता है। जौ में जो फाइबर होता है वह इन्सॉल्यूबल होता है और यही फाइबर पित्त की थैली में पथरी नहीं होने देता। कई रिसर्च में यह बात सामने आई कि जौ की वजह से हार्ट संबंधी बीमारियां और पथरी नहीं होती।

​वजन कम करने में मदद करता है
जौ में बीटा ग्लूकन होता है जो सॉल्यूबल फाइबर होता है। ऐसे फाइबर आंत में जाकर जेल का रूप ले लेते हैं और पाचन की प्रक्रिया और अब्ज़ॉर्प्शन को धीमा कर देते हैं। इसकी वजह से पेट लंबे समय तक भरा-भरा रहता है और भूख भी नहीं लगती। इसलिए जौ वजन घटाने में भी मदद करता है। जौ का पानी भी वजन कम करने में मदद करता है।

​ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद
जौ आंत के अंदर prevotella नाम के बैक्टीरिया की संख्या में इजाफा करने में मदद करता है। यह बैक्टीरिया ब्लड शुगर के लेवल को कम करने में मदद करता है।

​क्लेस्ट्रॉल का लेवल कम
एक स्टडी के अनुसार, जौ क्लेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करने में मदद करता है। जौ में मौजूद बीटा ग्लूकन बाइल ऐसिड्स के साथ जुड़ जाता है और खराब एलडीएल कलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। हमारी बॉडी इन कलेस्ट्रॉल के जरिए प्रड्यूस हुए बॉइल ऐसिड्स को शरीर से बाहर निकाल देती है। ऐसी स्थिति में लिवर नया बाइल ऐसिड बनाने के लिए और कलेस्ट्रॉल का इस्तेमाल करता है। इससे क्लेस्ट्रॉल का लेवल कम हो जाता है।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

4 + 7 =

पाठको की राय