Monday, October 18th, 2021
Close X

केन्द्रीय कोयला मंत्री ने एसईसीएल खदानों का किया निरीक्षण

बिलासपुर
केन्द्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी सुबह कोलइण्डिया लिमिटेड के चेयरमेन प्रमोद अग्रवाल  कोयला मंत्रालय भारत सरकार के अपर सचिव व्ही.के. तिवारी, कोयला मंत्रालय के संयुक्त सचिव बी.पी. पति संयुक्त के साथ बिलासपुर एसईसीएल प्रवास पर पहुँचे। एयरपोर्ट पर एसईसीएल के सीएमडीए.पी. पण्डा व साथी निदेशकगणों ने उनका स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने एसईसीएल की खदानों का प्रत्यक्ष निरीक्षण किया।

केन्द्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद  जोशी ने बताया कि आज से कोलइंडिया ने रोजाना 2 मिलियन टन की कोयला आपूर्ति शुरू कर दी है। पावर सेक्टर से प्रतिदिन 1.9 मिलियन टन डिमांड है। जोशी ने बताया कि वर्तमान में रोजाना 1.1 मिलियन टन कोयले की ही जरूरत है। बिजली संयंत्रों की जरूरत का पूरा कोयला दिया जाएगा, कहीं कोई समस्या नहीं है। कोयला मंत्री ने कहा कि वे उत्पादन में और तेजी लाने के उद्धेश्य से खदानों का निरीक्षण कर रहे हैं। इसके उपरांत वे तय कार्यक्रम अनुसार एसईसीएल की मेगा प्रोजेक्ट दीपका, गेवरा, कुसमुण्डा के निरीक्षण के लिए सड़क मार्ग से रवाना हो गए।

ज्ञात हो कि देश भर में विद्युत संयंत्रों द्वारा कोयले की मांग के बीच एसईसीएल ने पावर सेक्टर को कोयला आपूर्ति बढ़ा दी है। अप्रैल से सितम्बर की छमाही में एसईसीएल द्वारा गत वर्ष की तुलना में पावर सेक्टर को लगभग 25 प्रतिशत अधिक कोयले की आपूर्ति की गयी। कम्पनी द्वारा ई-आक्शन के जरिए प्रदाय किये गये कोयले में भी पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में लगभग 30 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है।

Source : Agency

आपकी राय

3 + 3 =

पाठको की राय