Monday, October 18th, 2021
Close X

गाजियाबाद: फ्लाईओवर से नीचे गिरी बस, एक की मौत, 10 घायल

गाजियाबाद
गाजियाबाद के भाटिया मोड़ फ्लाईओवर पर लालकुआं से घंटाघर कोतवाली की ओर जा रही एक निजी बस टायर फटने अनियंत्रित हो गई। इसके बाद बस ने बाइक सवार युवक को टक्कर मार दी और डिवाइडर तोड़ते हुए दूसरी ओर की भी रैलिंग तोड़कर नीचे गिर गई। जिसमें बाइक सवार व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 10 लोग घायल हो गए। इनमें दो लोगों की हालत गंभीर है। मिली जानकारी के अनुसार बुधवार रात करीब 9.30 बजे ग्रेटर नोएडा से निजी कंपनी का स्टाफ लेकर लाल कुंआ से घंटाघर कोतवाली की तरफ जा रही थी। बस जैसी ही भाटिया मोड़ फ्लाईओवर के ऊपर पहुंचीं तभी बस का टायर फट गया। इससे अनियंत्रित हुई बस ने एक बाइक सवार युवक में टक्कर मार दी। इसके बाद बस घिसटते हुए फ्लाईओवर का डिवाइडर क्रास कर दूसरी सड़क की रैलिंग तोड़ कर नीचे जा गिरी। फ्लाईओवर के नीचे दुकानें लगी होने के कारण वहां लोगों की काफी भीड़ थी, जिसपर बस जाकर गिर गई।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को बस से निकाला और अस्पताल भेजा। इसके लिए मौके पर चार से ज्यादा एंबुलेंस तैनात रही। ताकि घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया जा सके। मामले की गंभीरता को देखते हुए मौके पर जिलाधिकारी और एसएसपी भी पहुंच गए और बचाव कार्य में तेजी लाई गई। सवा दस बजे प्रदेश के स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग भी मौके पर पहुंच गए।  एसएसपी ने इस दुर्घटना में बाइक सवार व्यक्ति की मौत होने की पुष्टी की है। मृतक की पहचान नहीं हो सकी है। कुल 10 घायलों में तीन गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। इन घायलों को जिला अस्पताल, यशोदा और सुदर्शन अस्पताल भेजा गया है। जहां उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया।

बस में दस लोग सवार थे
मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि प्राइवेट बस में ड्राइवर के अलावा दस सवारी थी। ये सभी ग्रेटर नोएडा की एक निजी कंपनी में काम करते हैं।  इन सभी को बस से निकालने में काफी मुश्क्कत करने पड़ी है। इसके अलावा बस के चपेट में भी कई लोग आए। बस की चपेट में आए गई लोगों को बाहर निकालकर उनकी जान बचाई गई है।

चार क्रेन लगाकर बचाई लोगों की जान
बस के अंदर की सवारियों व उसके नीचे दबने वाले लोगों की जान बचाने के लिए पुलिस ने तुरंत क्रेन मंगाई ताकि बस को हटाकर उन्हें बचाया जा सके। इस दौरान पुलिस ने तुरंत चार क्रेन मंगवाई और बचाव कार्य में तेजी लाते हुए बस को हटवाया। हालांकि फ्लाईओवर से बस को उठाने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा। लेकिन फिर भी बस को हटाकर घायलों को तुरंत उपचार दिलाया गया।

बस के नीचे दबी तीन बाइक हुई चूर
फ्लाईओवर के बस गिरने के कारण उसके नीचे खड़ी तीन बाइक पूरी तरह चुर हो गई। लोगों ने बताया कि जैसे ही बस गिरती नजर आई तो लोग एकाएक भागने लगे। जिसकी बाइक या कार खड़ी थी। उसने वह वहीं छोड़ दी।

सुनील को यशोदा अस्पताल रेफर किया
घायलों में सुनील और दीपक निजी कंपनी में काम करते हैं। जबिक आसिफ छात्र हैं। सुनील की हालत गंभीर होने पर उन्हें एमएमजी अस्पताल से यशोदा अस्पताल रेफर कर दिया गया। आसिफ एमएमजी में भर्ती हैं। जबकि दीपक को एक अन्य निजी अस्पताल में एडमिट कराया गया है।

Source : Agency

आपकी राय

14 + 2 =

पाठको की राय