Monday, January 24th, 2022

गहलोत सरकार अलवर नाबालिग रेप केस में घिर रही, डॉ किरोड़ीलाल मीणा धरने पर बैठे

अलवर
राजस्थान के अलवर में मूकबधिर नाबालिग लड़की से रेप के मामले में विपक्ष सरकार को घेरने में जुटा है। बीजेपी सांसद डॉ. किरोड़ी लाल मीणा ने शुक्रवार को सर्किट हाउस में अपने कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन शुरू कर दिया है। मीणा की मांग है कि अलवर में नाबालिग के साथ हुई दरिंदगी के आरोपियों को जल्द सजा दी जाए। सैकड़ों लोग मीणा के साथ इस धरने में शामिल होकर गहलोत सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जता रहे हैं। इस दौरान अलवर शहर विधायक संजय शर्मा भी मौजूद रहे।

दो दिन पहले नाबालिग को पुलिया पर फेंक फरार हो गए थे आरोपी
आपको बता दें कि दो दिन पहले आरोपी नाबालिग को घायल अवस्था में अलवर पुलिया के ऊपर फेंककर फरार हो गए थे। जिसके बाद लोगों ने पुलिस को पूरे मामले की सूचना दी गई थी। मामला गंभीर होने के बाद आनन फानन ही जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे थे और नाबालिग को इलाज के लिए भेजा था। वहां से नाबालिग को जयपुर रेफर कर दिया था। जहां पर डॉक्टरों ने उनका ऑपरेशन किया था।

मामले में गहलोत सरकार ने की गठित की SIT
दिल्ली के निर्भया कांड के बाद अलवर में दरिंदों ने नाबालिग का रेप करने के बाद उसे गंभीर रूप से घायल कर पुलिया पर फेंक दिया था। मामले को लेकर गहलोत सरकार द्वारा बनाई गई एसआईटी की टीम मौके पर पहुंची थी और पूरे घटनाक्रम की जांच में जुट गई थी, ताकि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर सके। अलवर पुलिस की 6 स्पेशल टीमें पूरे मामले में हर पहलू पर नजर बनाए हुए हैं और हर तरह से सुराग जुटाने में लगी हुई हैं।

गहलोत सरकार के कई मंत्री पहुंचे थे अस्पताल
गहलोत सरकार के तीन साल के समय में अलवर में दूसरा बड़ा मामला होने के बाद पूरे देश में जिले की किरकिरी होने पर अशोक गहलोत के कई मंत्री नाबालिक लड़की का हालचाल जानने अस्पताल पहुंचे थे। इसके साथ ही डॉक्टरों की स्पेशल टीम बच्ची की देखभाल में जुटी हुई है, ताकि जल्द से जल्द उसे ठीक किया जा सके। डॉक्टरों के द्वारा बच्ची के कई ऑपरेशन भी किए गए हैं।

 

Source : Agency

आपकी राय

8 + 14 =

पाठको की राय