Tuesday, June 22nd, 2021
Close X

चेक कीजिए, आपके डायनिंग स्‍पेस में हैं ये खास बातें ?

आपके घर का डायनिंग स्‍पेस जितना अधिक वास्‍तु सम्‍मत होगा, आपके घर में उतनी ही बरकत होगी और भोजन से घर के सदस्‍यों को उतनी ही अधिक ऊर्जा प्राप्‍त होगी। इस ऊर्जा के साथ वह जीवन के हर क्षेत्र में लाभ प्राप्‍त कर पाएंगे। वास्‍तु सम्‍मत डायनिंग स्‍पेस का तात्‍पर्य है कि सभी सामान जैसे डायनिंग टेबल, फ्रिज, इलेक्ट्रिक सामान, दरवाजे, खिड़कियां सभी चीजें सही दिशा में हों। सभी चीजों के सही दिशा में होने से खाने की चीजों में स्‍वाद के साथ-साथ सौभाग्‍य की प्राप्ति होगी। आइए जानते हैं कौन सी वस्‍तु किस दिशा में होनी चाहिए…

डायनिंग रूम घर में पश्चिम दिशा में होना श्रेष्‍ठ होता है। मगर स्‍थान के अभाव में पूर्व दिशा में भी डायनिंग रूम बनाया जा सकता है। इस स्‍थान पर सूर्य का प्रकाश प्राकृतिक रूप से आए तो बेहतर होगा।

सदैव डायनिंग टेबल आयताकार अथवा वर्गाकार होनी चाहिए। गोल या फिर अंडाकार डायनिंग टेबल का प्रयोग न करें। डायनिंग टेबल सदैव लकड़ी की ही बनवानी चाहिए। डायनिंग टेबल के ऊपर बीच में फल, नमक मिर्च एवं अचार के अलावा कोई भी फालतू सामान नहीं रखना चाहिए। डायनिंग टेबल पर बांस का पौधा रखना बहुत शुभ माना जाता है।

डायनिंग टेबल और कुर्सियां इस प्रकार से व्‍यवस्थित करें कि भोजन करते वक्‍त आपका मुख पूर्व, उत्‍तर या फिर ईशान कोण की ओर रहे। दक्षिण की तरफ मुंह करके कभी भी भोजन नहीं करना चाहिए। गृह स्‍वामी का मुख भोजन करने वक्‍त सदैव पूर्व दिशा की ओर रहना चाहिए।

डायनिंग स्‍पेस के पास एक वॉश बेसिन होना भी जरूरी माना जाता है। वास्‍तु के हिसाब से यह उत्‍तर-पूर्व या फिर उत्‍तर-पश्चिम में होना सबसे अच्‍छा माना जाता है। पीने के पानी के लिए आरओ या फिर कोई अन्‍य पानी का स्रोत पूर्व, उत्‍तर और मध्‍य ईशान कोण में होना चाहिए।

डायनिंग रूप के दरवाजे मुख्‍य द्वार के सामने नहीं होने चाहिए। डायनिंग रूम के सामने शौचालय या फिर पूजाघर का दरवाजा नहीं खुलना चाहिए। पूजाघर और शौचालय डायनिंग स्‍पेस के साथ जुड़ा हुआ भी नहीं होना चाहिए। डायनिंग रूम के दरवाजे और खिड़कियां पूर्व और उत्‍तर दिशा में होने चाहिए।

यदि आप अपने डायनिंग स्‍पेस में क्रॉकरी एवं अन्‍य आवश्‍यक सामग्रियों के लिए रैक या फिर कोई कैबिनेट रखना चाहते हैं तो उसे दक्षिण या फिर पश्चिम की ओर रख सकते हैं।

डायनिंग स्‍पेस की दीवारों पर कभी भी पूर्वजों, हिंसक पशुओं, खंडहर या फिर मॉडर्न आर्ट के नाम पर आड़ी-तिरछी रेखाओं वाली तस्‍वीरें नहीं लगानी चाहिए। इसकी बजाए सुदंर प्राकृतिक दृश्‍यों अथवा परिवार के साथ कोई अच्‍छी सी फोटो लगाना अच्‍छा होता है।

फ्रिज और अन्‍य इलेक्‍ट्रॉनिक सामान दक्षिण-पूर्व दिशा में यानी की आग्‍नेय कोण में रखना शुभ है।

Source : Agency

आपकी राय

11 + 9 =

पाठको की राय